Realme C31 Review: सस्ते में महंगा दिखने वाला फोन!

hindinewsviral.com
16 Min Read

[ad_1]

आज के समय में एक बजट स्मार्टफोन चाहने वालों के लिए कई सारे ऑप्शन्स मौजूद हैं। 20 हजार रुपये और 15 हजार रुपये से नीचे के सेग्मेंट में बहुत सुधार हुआ है, क्योंकि इनमें कंपनियां बड़ी बैटरी, एमोलेड डिस्प्ले, 5G कनेक्टिविटी से लैस स्मार्टफोन उतारने लगी हैं। फिर भी, 10 हजार रुपये से नीचे के सेग्मेंट को नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है, क्योंकि इस प्राइस सेग्मेंट में भी कंपनियों कई अच्छे हैंडसेट उतारे हैं। 

इसमें Realme C सीरीज से एक हालिया फोन लॉन्च किया गया था जिसे Realme C31 नाम दिया गया है। यह फोन आकर्षक और स्लिम डिजाइन के साथ आता है, 5000 एमएएच बैटरी मिलती है और रियर में ट्रिपल कैमरा सेटअप भी दिया गया है। फोन उसी सीरीज से है जिसमें Realme C35 को लॉन्च किया गया था, लेकिन अबकी बार कीमत कम रखी गई है ताकि ग्राहकों को लुभाया जा सके। क्या Realme C31 प्राइस के हिसाब से लुभाता है, और क्या डिजाइन के अलावा भी इसमें कुछ खास है? इस रिव्यू में पता करते हैं।  
 

Realme C31 price in India and variants

Realme C31 भारत में दो वेरिएंट में आता है। बेस वेरिएंट 8,999  रुपये में मार्च 2022 में लॉन्च किया गया था लेकिन इस रिव्यू के समय इसकी कीमत थोड़ी बढ़ कर 9,299 रुपये हो गई है। यह वेरिएंट 3GB रैम और 32GB स्टोरेज के साथ आता है, जबकि इससे ऊपर वाला वेरिएंट 4GB रैम और 64GB स्टोरेज के साथ आता है और कीमत 9,999 रुपये है। फोन लाइट सिल्वर और डार्क ग्रीन कलर्स में उपलब्ध है। इस रिव्यू के लिए मेरे पास 4GB RAM वाला मॉडल था। 
 

Realme C31 design

जब 10,000 रुपये से कम कीमत वाले डिवाइस के रूप में देखते हैं, तो  Realme C31 हाथ में अच्छा दिखता है और महसूस भी अच्छा होता है। लाइट सिल्वर कलर फोन को बहुत स्लिम लुक देता है। जब मैंने इसे पहली बार हाथ में पकड़ा था तो शुरू से ही फोन काफी लंबा महसूस हो रहा था। फोन का बैक पैनल ट्रिपल-कैमरा सेटअप के साथ है जो थोड़ा बाहर निकला हुआ है, जिससे डेस्क पर रखने पर फोन डगमगाने लगता है। पीछे के पूरे पैनल पर एक ध्यान खींचने वाला टेक्स्चर दिया गया है, सिर्फ कैमरा मॉड्यूल इससे अलग है। बैक पैनल पॉलीकार्बोनेट का बना है। इसका टेक्सचर्ड बैक आसानी से उंगलियों के निशान नहीं पड़ने देता है और खरोंचें भी पड़ने से रोकता है। 
 

realme

Realme C31 में पावर बटन दाईं तरफ दिया गया है और इसी में फिंगरप्रिंट सेंसर भी मौजूद है। मुझे फिंगरप्रिंट सेंसर तक पहुंचने में कोई परेशानी नहीं हुई क्योंकि पावर बटन सही जगह दिया गया है और यह हल्के से ढलाव वाले खांचे में दिया गया है। फोन के लेफ्ट साइड में सिम कार्ड स्लॉट और वॉल्यूम बटन हैं। बैक पैनल में स्पीकर ग्रिल है। व्यक्तिगत रूप से, स्पीकर प्लेसमेंट मुझे नहीं भाया क्योंकि जब भी डिवाइस को फ्लैट जगह पर रखा जाता है तो साउंड दब जाता है।  

Realme C31 के निचले हिस्से में 3.5mm हेडफोन जैक, प्राइमरी माइक्रोफोन और एक माइक्रो-USB पोर्ट दिया गया है। कंपनी को इसके बजाए एक यूएसबी-टाइप सी पोर्ट इसमें देना चाहिए था, यह देखते हुए कि Micromax In 2B जैसे पुराने फोन भी इस कीमत में टाइप सी पोर्ट के साथ आते हैं। बॉक्स में 10W का चार्जर मिलता है, लेकिन कोई प्रोटेक्टिव केस नहीं मिलता। 

Realme C31 में 6.5 इंच HD+ LCD डिस्प्ले दिया गया है जिसमें वाटरड्रॉप नॉच मिलता है। इसी में फ्रंट कैमरा फिट किया गया है। डिस्प्ले में पतले बेजल हैं, लेकिन चिन थोड़ी बड़ी है। डिस्प्ले में स्टैंडर्ड 60Hz रिफ्रेश रेट है। फोन का वजन 197 ग्राम है जो थोड़ा भारी है। हालांकि, मुझे इसे एक हाथ से इस्तेमाल करते समय कोई परेशानी नहीं हुई क्योंकि कंपनी ने वजन सही तरीके से बांटा है। 
 

Realme C31 specifications and software

Realme C31 में Unisoc T612 SoC मिलता है जो 12nm फेब्रिकेशन प्रोसेसर पर आधारित है। यह एक ऑक्टा-कोर प्रोसेसर है जिसकी क्लॉक स्पीड 1.82GHz तक है। स्टैंडर्ड UFS 2.2 इनबिल्ट स्टोरेज दी गई है जो इस प्राइस सेगमेंट में बहुत बार नहीं देखी जाती है। फोन में एक साथ दो नैनो-सिम कार्ड और एक्स्ट्रा स्टोरेज के लिए माइक्रोएसडी कार्ड सपोर्ट दिया गया है। कार्ड की मदद से स्टोरेज को 1TB तक बढ़ाया जा सकता है।
 

realme

कनेक्टिविटी के लिए Realme C31 में 4G/LTE, ब्लूटूथ 5.0 और केवल 2.4GHz वाई-फाई का सपोर्ट मिलता है। मेरी यूनिट में वाई-फाई के साथ मुझे कुछ परेशानी हुई क्योंकि C31 मेरे राउटर से बार-बार डिस्कनेक्ट होता रहा, जबकि मैं एक ही कमरे में था।

Realme C31 फोन Realme UI R एडिशन पर चलता है जो रेगुलर Realme UI का अधिक बेसिक वर्जन है। यह वर्जन लोवर एंड डिवाइसेज की परफॉर्मेंस को बढ़ाने के लिए तैयार किया गया है। फोन में कई तरह के ब्लॉटवेयर ऐप्स मिलते हैं जिसमें Facebook, Josh, Paytm, Sharechat और दूसरे कई ऐप्स शामिल हैं। जरूरत पड़ने पर आप इनको अनइंस्टॉल भी कर सकते हैं। 

मेरी यूनिट Android 11 पर रन कर रही थी और इसमें मार्च 2022 का सिक्योरिटी पैच था। मुझे इस पर अप्रैल का सिक्योरिटी पैच अपडेट भी प्राप्त नहीं हुआ। यूजर इंटरफेस Realme UI के वनिला वर्जन के जैसा महसूस होता है। इसमें कुछ हल्की एडजस्टमेंट की गई हैं और कस्टमाइजेशन के लिए ज्यादा कुछ नहीं मिलता है। उदाहरण के लिए, होम स्क्रीन पर मैं ऐप्स के आइकन, ट्रांजिशन या ले-आउट को भी कस्टमाइज नहीं कर पाया। 

यूजर इंटरफेस इस्तेमाल में आसान और सीधा है। सभी जरूरी सेटिंग्स और क्विक एक्शन आसानी से मिल जाते हैं। फोन में Smart Controls का फीचर मिलता है जिसमें कुछ मॉडर्न फीचर्स जैसे Smart wake, Smart motion, Pocket mode आदि दिए गए हैं। डिवाइस में आपको डेडीकेटेड गैलरी ऐप नहीं मिलता है। आपको या तो गूगल का प्री-इंस्टॉल्ड Google Photos इस्तेमाल करना होगा या फिर कोई थर्ड पार्टी ऐप इस्तेमाल करना होगा। 
 

Realme C31 performance and battery life

रोजमर्रा के इस्तेमाल में फोन में कोई परेशानी नहीं होती है। यूजर इंटरफेस में स्क्रॉलिंग और ऐप्स के बीच स्विच करने में भी कोई दिक्कत महसूस नहीं हुई। फोन में दो तरह के बायोमीट्रिक ऑथेंटिकेशन ऑप्शन मिलते हैं- फिंगरप्रिंट और फेस अनलॉक। फिंगरप्रिंट काफी फास्ट है लेकिन फेस अनलॉक उम्मीद से थोड़ा स्लो नजर आता है। 

परफॉर्मेंस की बात करें तो, AnTuTu पर फोन ने 197,830 पॉइंट्स का स्कोर किया। Geekbench के सिंगल कोर और मल्टी कोर टेस्ट में फोन ने क्रमश: 339 और 1279 पॉइंट्स का स्कोर किया। PCMark Work 3.0 टेस्ट में फोन ने 7,348 पॉइंट्स का स्कोर किया। हालांकि ये नतीजे बहुत अच्छे नहीं थे, और कुछ तो कंपनी के खुद के Realme C25 से भी कम थे। Realme C25 को पिछले साल लॉन्च किया गया था जिसमें MediaTek Helio G70 SoC मिलता है। 

बेंचमार्क स्कोर्स भले ही कमजोर थे, लेकिन फोन पर गेम स्मूद चले। फोन पर मैंने BGMI, Call of Duty: Mobile से लेकर PES 2021, Asphalt 9 Legends तक खेलकर देखा। जहां तक मैंने अनुभव किया, Call of Duty: Mobile फोन में लो-ग्राफिक्स और फ्रेम रेट्स के साथ अच्छा चला। मीडियम ग्राफिक्स पर ले जाने पर फोन लड़खड़ाने लगा। साथ ही 15 मिनट के लगातार प्ले के बाद बैक पैनल के कुछ हिस्से में फोन काफी गर्म भी हो गया। Asphalt 9: Legends हाई क्वालिटी सेटिंग्स में ठीक-ठाक चला। 
 

realme

BGMI को फोन ने हाई फ्रेम रेट सेटिंग्स में बिना किसी लैग के प्ले किया। यहां पर एचडी ग्राफिक्स में फोन लड़खड़ाने लगा। जायरोस्कोप ने भी अच्छा काम किया और मैं गनफाइट के दौरान रिकॉइल को कंट्रोल कर पा रहा था। 

Temple Run और Subway Surfers जैसे गेम फोन में बिना किसी रुकावट चले। फोन में ‘Auto Resolution’ का ऑप्शन मिलता है जिसमें गेम्स के दौरान स्क्रीन रिजॉल्यूशन कम हो जाता है ताकि फोन की बैटरी को बचाया जा सके और हीटिंग भी कम हो। हालांकि, इसे इनेबल करने के बाद भी मुझे इसकी परफॉर्मेंस या इस्तेमाल में कोई अंतर नजर नहीं आया। 

Realme C31 के डिस्प्ले में व्यूइंग एंगल अच्छे हैं। आप स्टैंडर्ड, वार्म और कूल कलर टोन के प्रीसेट्स में से चुन सकते हैं। स्टैंडर्ड मोड में मुझे सबसे अधिक बैलेंस्ड लुक मिला। स्क्रीन बड़ी है और इसके लिए एचडी प्लस रिजॉल्यूशन कम पड़ता मालूम होता है। स्क्रीन की ब्राइटनेट 400 निट्स है और आउटडोर में, या सूरज की सीधी रोशनी में भी यह आसानी से पढ़ी जा सकती है। 

डिस्प्ले पर कलर्स अच्छे दिखते हैं। इसमें आपको Widevine L1 का सपोर्ट नहीं मिलता है इसलिए Netflix और Amazon Prime Video जैसे OTT ऐप्स पर आप केवल स्टैंडर्ड डेफिनिशन (SD) क्वालिटी में ही कंटेंट देख पाएंगे। स्पीकर क्वालिटी अच्छी है और हाथ में पकड़ने पर यह काफी लाउड साउंड करता है। 
 

realme

फोन में वीडियो डिस्प्ले एनहांस्मेंट फीचर मिलता है जिससे वीडियो देखते समय कलर ज्यादा चमकीले और जीवंत हो उठते हैं। मैंने इसे इनेबल किया तो वीडियो थोड़े बनावटी से दिखने लगे इसलिए मैंने इसको बंद ही रखा। 

Realme C31 में 5,000mAh की बैटरी दी गई है जो हमारे एचडी वीडियो लूप टेस्ट में 13 घंटे 53 मिनट तक चली, यह उम्मीद से थोड़ा कम था। औसतन, फोन पूरे दिन आराम से चल जाता है जिसमें एक बार चार्ज करने पर रेगुलर यूज के अलावा थोड़ी गेमिंग और मीडिया खपत शामिल है। हल्के इस्तेमाल के साथ, मैं इसे पूरे एक दिन से थोड़ा अधिक समय तक चला पाया। फोन के साथ बॉक्स में मिलने वाला 10W चार्जर इसे 30 मिनट में 0 से 23 प्रतिशत चार्ज कर देता है और बैटरी को पूरी तरह से चार्ज करने में 2 घंटे 30 मिनट का समय लिया।
 

Realme C31 cameras

Realme C31 रियर में ट्रिपल-कैमरा सेटअप को सपोर्ट करता है, जिसमें f/2.2 अपर्चर वाला 13 मेगापिक्सल का प्राइमरी कैमरा, f/2.4 अपर्चर वाला 2 मेगापिक्सल का मैक्रो कैमरा और एफ/2.8 अपर्चर के साथ ब्लैक-एंड-व्हाइट कैमरा शामिल है। आगे की तरफ f/2.2 अपर्चर वाला 5 मेगापिक्सल का सिंगल कैमरा है। कैमरा इंटरफ़ेस भी रेगुलर Realme कैमरा ऐप का एक सरल वर्जन है। मैंने कुछ शॉट्स को कैप्चर करने की कोशिश करते समय व्यूफ़ाइंडर में कुछ फ़्रेम ड्रॉप्स को देखा।
 

realme
realme

कैमरा ऐप इस्तेमाल करने में आसान है और दिए गए ऑप्शंस के बीच नेवीगेट करने में आसान है। फोन की असल कैमरा परफॉर्मेंस औसत ही कही जाएगी। डे-लाइट में लिए गए फोटो अच्छे थे लेकिन डिटेल्स की कमी थी जो जूम करने पर साफ पता चल रहा था। 13 मेगापिक्सल का कैमरा अच्छे कलर्स मेंटेन कर लेता है लेकिन डाइनेमिक रेंज में चूक जाता है। ऑटो एचडीआर मोड में स्विच करने पर इमेज ज्यादा ही शार्प हो गई और कुछ कलर ओवर सेचुरेटेड हो गए। फोन में 4X डिजिटल जूम मिलता है लेकिन कैप्चर की गई इमेज में ग्रेन्स दिखाई देते हैं। 
 

realme

फोन के कैमरा से लिए गए मैक्रो शॉट्स औसत से कम थे और फोटो में गुलाबी सी छटा दिख रही थी। मैक्रो शॉट्स को लेने में कई प्रयास करने पड़े क्योंकि इसमें सही फोकस आसानी से नहीं मिल पा रहा था। फोटो में डिटेल्स की भी कमी थी। पोर्ट्रेट मोड केवल रियर कैमरा में ही काम करता है और किसी वजह से इंसानी सब्जेक्ट पर ही काम करता है, चीजों पर नहीं। एज डिटेक्शन अच्छा था लेकिन कई बार यह सब्जेक्ट का कुछ हिस्सा भी ब्लर कर देता था जो कि नहीं करना चाहिए था। आप ब्लर लेवल को फोटो क्लिक करने से पहले सेट भी कर सकते हैं। 
 

realme

लाइट के सामने फ्रंट कैमरा से ली गई फोटो ओवर एक्सपोज हो गईं और काफी साधारण दिखीं। 5 मेगापिक्सल का कैमरा चेहरे की अच्छी डिटेल कैप्चर करने में चूक जाता है। फोटो में काफी नॉइज भी दिखाई दिया। 
 

realme

लो लाइट में ली गई फोटो में नॉइज मिला जबकि फोटो अच्छी खासी रोशनी में खींची गई थी। इसमें फोटो सॉफ्ट दिखीं और डिटेल्स की काफी कमी थी। कम रोशनी में कैमरा फोकस करने में भी संघर्ष करता रहा। Night Pro मोड में स्विच करने पर फोटो थोड़ी ब्राइट दिखीं। 
 

realme
realme

फोन 30fps पर 1080p तक के रिजॉल्यूशन में वीडियो कैप्चर कर सकता है। दिन की रोशनी में कैप्चर किए गए वीडियो साधारण थे और स्टेबलाइजेशन की कमी इनमें साफ देखी जा सकती थी। लो लाइट में वीडियो में काफी नॉइज दिखा। चूंकि, इसमें इलेक्ट्रॉनिक स्टेबलाइजेशन नहीं था, इसलिए वीडियो में शिमर (shimmer) इफेक्ट भी नहीं था, जो कि एक अच्छी बात रही। 

Verdict

रोजमर्रा के इस्तेमाल के लिए फोन अच्छा है। मल्टीटास्किंग या ऐप्स के बीच स्विच करने में कोई परेशानी नहीं होती। मैं इस पर हैवी ग्राफिक्स में गेम खेलने की सलाह नहीं दूंगा क्योंकि यह उस तरह से डिजाइन नहीं किया गया है। फोन काफी मॉडर्न और स्टाइलिश दिखता है, और इसे देखकर कहना मुश्किल है कि ये एक बजट डिवाइस है। फोन की 5,000mAh की बैटरी बढ़िया बैकअप दे देती है। 

फोन के कैमरा में सुधार की काफी गुंजाइश है। पोर्ट्रेट मोड को केवल इन्सानी सब्जेक्ट तक सीमित नहीं होना चाहिए था। अगर आप इस फोन को खरीदने जा रहे हैं तो मैं सुझाव दूंगा कि इसका ज्यादा रैम वाला वर्जन खरीदें, क्योंकि उसके प्राइस में ज्यादा अंतर नहीं है और लॉन्ग रन में यह फायदेमंद होगा। अगर इसी प्राइस में आप कोई विकल्प देख रहे हैं तो Moto E32s देख सकते हैं, जो काफी लुभावना हो सकता है। 
 

[ad_2]

Source link

Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *