Ravi Kishan criticises ‘Besharam Rang’ while apoligising for his old songs | रवि किशन को अपने पुराने गाने पसंद नहीं: बोले- समय के अभाव में स्क्रिप्ट नहीं पढ़ता था, ऐसे गाने गाए जो सही नहीं थे

hindinewsviral.com
3 Min Read

[ad_1]

5 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

एक्टर और सांसद रवि किशन ने पठान के गाने बेशरम रंग पर रिएक्शन दिया है। रवि किशन ने कहा कि सिनेमा को सिनेमा की तरह ही फंक्शन करना चाहिए। गानें वल्गर नहीं होने चाहिए। रवि किशन ने अपने कुछ पुराने गानों पर भी बात की।

रवि ने कहा कि उन्होंने भी शुरुआती दौर में कुछ ऐसे गाने किए हैं, जो शायद सही नहीं थे। प्रोड्यूसर्स की डिमांड की वजह से उन्हेंं ऐसे गाने करने पड़े। रवि का कहना है कि करियर के शुरुआती दौर में उनके पास स्क्रिप्ट पढ़ने का टाइम नहीं था।

उनके पास गानों के लिरिक्स पढ़ने का समय नहीं था। शायद इस वजह से उन्होंने ऐसी फिल्मों और म्यूजिक वीडियो में काम किया, जिसे लेकर उनकी आज भी ट्रोलिंग होती है।

बिना सोचे-समझे किसी भी फिल्म में काम कर लेता था
दरअसल रवि किशन से सवाल किया गया कि उनकी पार्टी के कुछ नेताओं ने शाहरुख खान की फिल्म पठान के गाने बेशरम रंग पर काफी सवाल उठाए। लेकिन उन्हीं की पार्टी के नेताओं जैसे मनोज तिवारी, निरहुआ और खुद रवि किशन ने ऐसे गाने गाए हैं, जो कि आपत्तिजनक की कैटेगरी में आ सकते हैं।

इस पर जवाब देते हुए रवि किशन ने कहा- लहंगा उठा देब जैसे गाने प्रोड्यूसर ने बनाए थे। मेरे पास उस वक्त फिल्मों की लाइन लगी रहती थी। किसी गाने का क्या मतलब है, यह सोचे बिना उसमें काम करने लग जाता था। अब लगता है कि मैंने गलती की।

टेलीविजन वाले TRP चाहते हैं, इसलिए ऐसे गाने बजाते हैं
आज भी कई टेलीविजन वाले रवि किशन के एंट्री के वक्त ऐसे गाने लगा देते हैं। इस पर रवि किशन ने कहा- मैं टेलीविजन वालों से ऐसा करने को मना करता हूं। हालांकि उन्हें TRP में बने रहने के लिए ऐसा करना पड़ता है। मार्केटिंग टीम चाहती है कि कॉन्ट्रोवर्सीज हो, जिसके कि चैनल को फायदा मिले।

भारत की संसद में भोजपुरी के तीन सुपरस्टार
रवि किशन और मनोज तिवारी के बीच भले ही एक वक्त पर क्लैश रहा हो, लेकिन आज दोनों काफी अच्छे दोस्त हैं। दोनों BJP से सांसद हैं। रवि किशन जहां UP के गोरखपुर से सांसद हैं, वहीं मनोज लगातार दो बार से उत्तर पूर्वी दिल्ली संसदीय क्षेत्र से सांसद हैं। ये दोनों अक्सर साथ में चुनाव प्रचार करते देखे जाते हैं।

इन दोनों के अलावा भोजपुरी के एक और सुपरस्टार दिनेश लाल यादव उर्फ निरहुआ भी आजमगढ़ से MP हैं। 2022 के उपचुनाव में अखिलेश यादव की खाली की सीट पर उन्होंने जीत दर्ज की थी।

[ad_2]

Source link

Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *