Rashmika Mandanna का फर्जी Viral वीडियो? स्टार्स ने की कार्रवाई की मांग

hindinewsviral.com
5 Min Read

[ad_1]

Rashmika Mandanna इन दिनों फिल्म ‘एनिमल’ को लेकर सुर्खियों में हैं। यह 1 दिसंबर 2023 को रिलीज होने वाली है। इसी बीच एक्ट्रेस Rashmika Mandanna का एक फर्जी वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। सोशल मीडिया पर एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है. वीडियो में दिख रही महिला रश्मिका नहीं बल्कि कोई और महिला है.

डीपपॉकेट एडिट की मदद से महिला को एक्ट्रेस जैसा दिखाने की कोशिश की गई है. वीडियो में महिला बेहद बोल्ड अंदाज में नजर आ रही है और वह लिफ्ट में घुस जाती है. वीडियो में दिख रही महिला भारतीय-ब्रिटिश है, जिसका नाम जारा पटेल बताया जा रहा है. हालांकि, यह वीडियो फर्जी है और सदी के महानायक अमिताभ बच्चन ने इस पर प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने लिखा, ‘हां, यह कानूनी तौर पर मजबूत मामला है।’

Rashmika Mandanna के छेड़छाड़ कर बनाए गए वीडियो (डीपफेक वीडियो) के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मृणाल ठाकुर, नागा चैतन्य और चिन्मयी श्रीपदा सहित बॉलीवुड की कई हस्तियां उनके समर्थन में आगे आई हैं. तथ्य की जांच करने वाले एक व्यक्ति ने ब्रिटिश-भारतीय सोशल मीडिया हस्ती जारा पटेल के मूल वीडियो के साथ रश्मिका मंदाना का ‘डीपफेक वीडियो’ क्लिप पोस्ट किया और उन्होंने भारत में ‘डीपफेक’ से निपटने के लिए एक कानूनी और नियामक ढांचे की तत्काल आवश्यकता रेखांकित की.

अमिताभ बच्चन इस पर प्रतिक्रिया देने वाले पहले व्यक्ति थे. अभिनेत्री मृणाल ठाकुर ने इस मुद्दे पर आवाज उठाने के लिए मंदाना की प्रशंसा की और उन लोगों से इस मुद्दे पर मूक दर्शक न बने रहने का आग्रह किया, जिन्होंने अब तक चुप्पी साध रखी है. ठाकुर ने इंस्टाग्राम पर लिखा, “इस मुद्दे पर अपनी आवाज बुलंद करने के लिए धन्यवाद रश्मिका, अब तक हमने इसकी (डीपफेक) सिर्फ झलकियां देखी हैं, लेकिन हममें से बहुतों ने चुप रहना ही बेहतर समझा है. हम एक समुदाय, एक समाज के रूप में कहां जा रहे हैं?”

Rashmika Mandanna ने लिखा, “हम लोग एक अभिनेत्री होने के नाते सुर्खियों में हो सकते हैं, लेकिन दिन के अंत में हममें से हर कोई इंसान है. हम इसके बारे में बात क्यों नहीं कर रहे हैं? चुप मत रहिए, अब समय नहीं है.” मंदाना ने सोमवार को इंस्टाग्राम के माध्यम से अपनी चिंता व्यक्त की. मंदाना ने कहा कि वह वीडियो देखकर ‘वास्तव में आहत’ हुईं, जिसमें एक लिफ्ट के अंदर कसरत करने के दौरान पहनी जाने वाली काले रंग की पोशाक (वनसी) में एक महिला को दिखाया गया है.

अभिनेता नागा चैतन्य ने कहा कि यह बहुत निराशाजनक है कि तकनीक का किस तरह दुरुपयोग किया जा रहा है और भविष्य में क्या ये और बढ़ सकता है, इसके बारे में सोचना और भी डरावना है. चैतन्य ने Rashmika Mandanna  की ‘एक्स’ पोस्ट के जवाब में लिखा, “कार्रवाई की जानी चाहिए और उन लोगों की सुरक्षा के लिए किसी तरह का कानून लागू किया जाना चाहिए, जो इसका शिकार हुए हैं और आगे भी हो सकते हैं.” गायिका चिन्मयी श्रीपदा ने अपने सोशल मीडिया पोस्ट में डीपफेक को भारत में लड़कियों को निशाना बनाने और ब्लैकमेल करने का “हथियार” बताया. उन्होंने लिखा, “लोन एप्स महिला उधारकर्ताओं को अश्लील तस्वीरों के साथ उनके चेहरों की फोटोशॉप्ड तस्वीरें दिखाकर परेशान करते हैं और वे इससे निपट नहीं सकतीं. सामान्य अप्रशिक्षित लोगों के लिए डीपफेक को पहचानना कठिन हो जाएगा. हर किसी के पास उच्च-क्षमता वाला डिस्पले नहीं होता.”

चिन्मयी ने लिखा, “मुझे सच में उम्मीद है कि यह एक राष्ट्रव्यापी जागरूकता अभियान है, जो लड़कियों के लिए डीपफेक के खतरों के बारे में आम जनता को शिक्षित करने और मामलों को अपने हाथों में लेने के बजाय घटनाओँ की रिपोर्ट करने के लिए तत्काल शुरू हो सकता है.”

Rashmika Mandanna ने बाद में अमिताभ बच्चन को उनके समर्थन में खड़े होने के लिए धन्यवाद दिया और कहा, “मैं आप जैसे नेताओं के साथ देश में सुरक्षित महसूस करती हूं.” उन्होंने चैतन्य और चिन्मयी को भी धन्यवाद दिया. उन्होंने ‘एक्स’ पर लिखा, “धन्यवाद… इस मुद्दे पर जागरूकता पैदा करने के लिए, उम्मीद है कि सख्त कार्रवाई की जाएगी और विनियमित दिशानिर्देश लागू किए जाएंगे.”

[ad_2]

Source link

Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *