Poco C51 Review in Hindi Price in India Rs 7999 5000mAh Battery 4GB RAM Specifications

hindinewsviral.com
11 Min Read

[ad_1]

Poco ने कुछ समय पहले मार्केट में अपना एंट्री-लेवल स्मार्टफोन – Poco C51 पेश किया था, जिसकी कीमत करीब 8 हजार रुपये है। इस रेंज में यूं तो कई स्मार्टफोन आते हैं, लेकिन ऐसे बहुत कम होते हैं, जो आपको कीमत के लिहाज से उतनी वैल्यू दे सके। इसकी कीमत में स्मार्टफोन मार्केट में मौजूद Lava Yuva 2 Pro और Moto E13 जैसे स्मार्टफोन से प्रतियोगिता करता है। दोनों ही स्मार्टफोन कुछ अच्छे फीचर्स लेकर आते हैं। ऐसे में क्या 8,000 रुपये की प्राइस रेंज में वाकाई में Poco C51 एक अच्छी खरीद साबित हो सकता है? इस रिव्यू में जानें।
 

Poco C51: भारत में कीमत

Poco C51 को केवल 4GB रैम और 64GB स्टोरेज कॉन्फिगरेशन में लॉन्च किया गया है, जिसकी कीमत 7,999 रुपये रखी गई है। इसे पावर ब्लैक और रॉयल ब्लू नाम के दो कलर ऑप्‍शन में पेश किया गया है, जिसमें से हमारे पास रिव्यू के लिए रॉयल ब्लू कलर वेरिएंट था।
 

Poco C51: डिजाइन और डिस्प्ले

एंट्री-लेवल सेगमेंट डिवाइस के साथ अकसर होता है कि उनके डिजाइन बेहद सिंपल होते हैं और बिल्ड क्वालिटी में भी ज्यादा दम देखने को नहीं मिलता है, लेकिन Poco C51 के साथ ऐसा नहीं है। स्मार्टफोन अपने प्रतिद्वंद्वियों की तुलना में बेहतर डिजाइन, ग्रिप और बिल्ड क्वालिटी के साथ आता है। इसमें पॉलीकार्बोनेट बैक पैनल है, जिसमें दानेदार टेक्सचर दिया गया है। इसे हाथ में लंबे समय तक पकड़े रहने का मेरा अनुभव अच्छा था। इसमें अच्छी ग्रिप मिलती है और वजन को इस तरह बांटा गया है कि यह हाथ में भारी महसूस नहीं होता है, भले ही इसका वजन 192 ग्राम हो।
 

1dc4hir

बैक में छोटा कैमरा मॉड्यूल मिलता है, जिसमें डुअल कैमरा सेटअप और एक LED फ्लैश शामिल है। मॉड्यूल में ना के बराबर उभार है। वहीं, फ्रंट में वाटरड्रॉप स्टाइल नॉच दिया गया है। एंट्री-लेवल स्मार्टफोन के नाते इसमें भी आपको चारों तरफ मोटे बेजल देखने को मिलेंगे। वॉल्यूम और लॉक/अनलॉक/पावर बटन को फ्रेम के दाईं तरफ फिट किया गया है। फोन अपेक्षाकृत थोड़ा बड़ा है, जिसकी वजह से आपको एक हाथ से फोन को इस्तेमाल करते समय वॉल्यूम बटन तक पहुंचने के लिए थोड़ी महनत करनी पड़ सकती है। बैक में ऊपर की तरफ सेंटर में फिंगरप्रिंट सेंसर फिट किया गया है और वहां तक पहुंचना आसान है। बॉटम में 3.5mm हेडफोन जैके के साथ माइक्रोUSB पोर्ट दिया गया है और फ्रेम के ऊपर सिंगल स्पीकर शामिल है, जो काफी लाउड है। वहीं बाईं ओर सिम स्लॉट है, जो दो सिम के साथ एक माइक्रोएसडी कार्ड भी सपोर्ट करता है। कुल मिलाकर, Poco C51 का डिजाइन एक एंट्री-लेवल स्मार्टफोन होने के नाते अच्छा है। 

वहीं, डिस्प्ले की बात करें, तो Poco C51 में 6.52-इंच का IPS LCD डिस्प्ले दिया गया है, जो स्टैंडर्ड रिफ्रेश रेट और HD+ रिजॉल्यूशन से लैस है। डिस्प्ले ज्यादा क्रिस्प नहीं है, लेकिन क्वालिटी औसत से ऊपर है। इसमें रंग थोड़े डल दिखाई देते हैं और आपको इन्हें एडजस्ट करने का ऑप्शन भी नहीं मिलता है। इसकी पीक ब्राइटनेस 400nits है, जो पेपर में भले ही कम हो, लेकिन मुझे डायरेक्ट सनलाइट में भी कंटेंट देखने में कोई मुशकिल नहीं हुई। कुल मिलाकर कीमत के लिहाज से डिस्प्ले क्वालिटी औसत से ऊपर है।
 

Poco C51:परफॉर्मेंस

Poco C51 में MediaTek Helio G36 SoC मिलता है और इसे सिंगल 4GB रैम वेरिएंट में लॉन्च किया गया है। कंपनी ने स्मार्टफोन में Android 13 Go Edition दिया है, जो एक तरह से एंड्रॉयड 13 का लाइट वर्जन है। मुझे उम्मीद थी कि चिपसेट लाइट एंड्रॉयड वर्जन के साथ मिलकर स्मूथ काम करेगा, लेकिन मेरे यूनिट के साथ ऐसा नहीं था। पहले बूट के साथ ही मैंने आम यूसेट में भी फोन को काफी धीमा पाया। ऐप लोडिंग समय ज्यादा था और ट्रांजिशन में लैग देखने को मिला। एंट्री-लेवल डिवाइस होने के नाते बेंचमार्क स्कोर से ज्यादा उम्मीद लगानी ठीक नहीं थी, लेकिन फिर भी मैंने AnTuTu और GFXBench में इसे टेस्ट किया। डिवाइस ने AnTuTu बेंचमार्क में 101,771 स्कोर हासिल किया प्लेटफॉर्म के अनुसार, नॉर्मल नहीं था। वहीं, GFXBench के Car Chase टेस्ट में फोन ने 338 फ्रेम्स, Manhattan 3.1 में 865.9 फ्रेम्स और T-Rex में 1,642 फ्रेम्स हासिल किए।
 

488a5648

जहां तक गेमिंग की बात रही, इस हार्डवेयर के साथ फोन के ग्राफिक्स डिमांडिंग गेम्स, जैसे कि Call of Duty: Mobile या Genshin Impact में अच्छी परफॉर्मेंस की उम्मीद करना ठीक नहीं है, लेकिन फिर भी, फोन Call of Duty: Mobile को चलाने में सक्षम था। हालांकि, लोड टाइम बहुत ज्यादा था और गेमिंग के दौरान सबसे कम ग्राफिक्स सेटिंग्स में भी कहीं-कहीं मामूली लैग देखने को मिले। लेकिन, स्मार्टफोन में Clash of Clans, Candy Crush Saga, Shadow Fight 4 जैसे गेम्स का अनुभव स्मूथ था।
 

Poco C51: बैटरी और सॉफ्टवेयर

Poco C51 में 5,000mAh बैटरी मिलती है, जो 10W चार्जिंग सपोर्ट करती है। डिवाइस थोड़ी सोशल मीडिया स्क्रॉलिंग, थोड़ी इंस्टेंट मैसेजिंग और कॉलिंग और कुछ घंटों की मीडिया स्ट्रीमिंग के साथ फोन आराम से लगभग 2 दिन निकाल सकता है। हमारे HD वीडियो लूप टेस्ट में फोन फुल चार्ज में करीब 15 घंटे 13 मिनट चला, जो औसत से ऊपर है। हालांकि, 10W चार्जिंग के साथ आपको इसके फुल चार्ज होने के लिए घंटों का इंतजार करना पड़ेगा। मैंने पाया कि फोन 30 मिनट में 0-21 प्रतिशत और 2 घंटे 40 मिनट 0-100 प्रतिशत चार्ज हुआ।
 

h7l9qdd8

बूट के साथ मुझे डिवाइस में Android 13 Go Edition मिला और रिव्यू लिखते समय तक मुझे दो महीने पुराना मार्च 2023 एंड्रॉयड सिक्योरिटी पैच अपडेट रिसीव हुआ। Poco C51 में Go Edition के साथ क्लीन अनुभव मिलता है। इसमें चंद प्री-लोडेड ऐप्स थे, जिन्हें हटाया जा सकता है। हालांकि, अगर आप  भर-भर के कस्टमाइजेशन ऑप्शन चाहते हैं, तो आपको यहां ऐसा बिल्कुल नहीं मिलेगा। सेटिंग्स में केवल काम के ऑप्शन हैं और नोटफिकेशन बार में भी आपको बड़े-बड़े बटन के रूप में कुछ जरूरी ऑप्शन मिलते हैं, जिन्हें आप रिप्लेस कर सकते हैं या पैनल पर नए ऑप्शन भी जोड़ सकते हैं। निश्चित तौर पर यह वृद्ध लोगों के लिए अच्छा है। कुल मिलाकर, मिड-रेंज और प्रीमियम Poco स्मार्टफोन की तुलना में मुझे C51 का सॉफ्टवेयर काफी अच्छा लगा।
 

Poco C51: कैमरा

Poco C51 में डुअल रियर कैमरा सेटअप मिलता है, जिसमें 8-मेगापिक्सल का मेन कैमरा और एक VGA डेप्थ सेंसर शामिल है। अच्छी रोशनी में मेन कैमरा अच्छा काम करता है। कई बार कुछ शॉट्स में कलर डल आते हैं और साथ ही तस्वीरें ओवर एक्सपोज्ड आईं। HDR परफॉर्मेंस भी कंसिस्टेंट नहीं थी। कुछ तस्वीरों में बैकग्राउंड काफी ज्यादा एक्सपोज आया। हालांकि, ज्यादातर तस्वीरें बिना एडिटिंग के सोशल मीडिया पर पोस्ट करने लायक थी। डेप्थ सेंसर नाम का काम करता है। पोट्रेट मोड में या तो तस्वीरों में ना के बराबर बोके इफेक्ट था, या बैकग्राउंड हद से ज्यादा एक्सपोज्ड था। कुछ तस्वीरों में बैकग्राउंड ब्लर हुआ, लेकिन वो काफी बनावटी दिखाई दे रहा था। 
 

iljv62ag
rramljh8
mg7nnc2
fkvblqdg

Top to Bottom: Primary Camera

कम रोशनी में मेन कैमरा सेंसर ने काफी संघर्ष किया। ज्यादातर तस्वीरें थोड़ी धुंधली थीं और इनमें डिटेल की कमी भी थी।
 

jsqqmeig

Primary camera in low-light

सेल्फी कैमरा 5-मेगापिक्सल का है, जो फोटो और पोर्ट्रेट दोनों मोड में डेलाइट में अच्छी तस्वीरें खींचता है। हालांकि, खराब एज डिटेक्शन के कारण पोर्ट्रेड मोड में बैकग्राउंड अच्छी तरह से ब्लर नहीं होता है। वहीं, रियर मेन सेंसर के समान फ्रंट कैमरा भी लो-लाइट में काफी संघर्ष करता है। रोशनी कम होते ही व्यूफाइंडर में लैग की समस्या देखने को मिली और तस्वीरों में डिटेल्स की कमी के साथ काफी नॉइस थी।

वहीं, वीडियो परफॉर्मेंस भी औसत थी। डेलाइट, इंडोर या लो-लाइट, सभी कंडिशन में वीडियो हल्के धुंधली कैप्चर हुए और इनमें डिटेल्स की भी कमी थी। रियर और फ्रंट दोनों कैमरे 30fps पर 1080p तक रिकॉर्डिंग सपोर्ट करते हैं। फोन टाइमलैप्स और शॉर्ट वीडियो फीचर के साथ आता है।
 

Poco C51: क्या आपको इसे खरीदना चाहिए?

Poco C51 इस समय मार्केट में अपनी कीमत पर Poco C51 की सीधी टक्कर Lava Yuva 2 Pro और Moto E13 से होती है। अगर आप अच्छी बिल्ड क्वालिटी के साथ लॉन्ग बैटरी लाइफ, ब्राइट डिस्प्ले और लाउड स्पीकर की तलाश में हैं, तो Poco C51 को आप खरीद सकते हैं, लेकिन परफॉर्मेंस एक सबसे बड़ा हिस्सा है, जहां Poco C51 ने मुझे निराश किया। वहीं, कैमरा भी औसत परफॉर्मेंस देते हैं। दूसरी ओर Moto E13 आपको अच्छी परफॉर्मेंस के साथ पोको से बेहतर लो-लाइट कैमरा क्वालिटी देता है और साथ ही यह USB Type-C पोर्ट के साथ भी आता है। एक समान कीमत में आप इस स्मार्टफोन पर भी नजर डाल सकते हैं।

[ad_2]

Source link

Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *