Oppo Reno 8 Pro 5G रिव्यू: डिजाइन में बेस्ट, कैमरा परफॉर्मेंस एवरेज

hindinewsviral.com
18 Min Read

[ad_1]

Oppo का Reno 8 Pro 5G भारत में कंपनी का सबसे महंगा Reno स्मार्टफोन है, जिसकी कीमत 45,999 रुपये है। देखने में फोन वाकई अच्छा है लेकिन इसके स्पेसिफिकेशन पर सरसरी नजर डालें तो यह एक मिड-रेंज फोन ही निकलकर आता है। क्या Oppo Reno 8 Pro 5G केवल सजावट के साथ परोसा गया है या फिर इसकी ओवरऑल परफॉर्मेंस और कैमरा में वो दम है जिसके लिए इतना प्राइस लिया जा रहा है?

Realme GT Neo 3 और OnePlus 10R से यह फोन कई मामलों में मेल खाता है लेकिन क्या इसमें भी वही कमियां छोड़ दी गई हैं जो बाकी प्रतिद्वंदियों में मौजूद हैं? मैंने Reno 8 Pro को कई हफ्तों तक इस्तेमाल किया और यहां मैं वह सब कुछ बताने जा रहा हूं जो आपको यह फोन खरीदने से पहले पता होना चाहिए।
 

Oppo Reno 8 Pro 5G के प्राइस

Oppo Reno 8 Pro 5G भारत में सिंगल वेरिएंट में आता है जिसमें हमें 12GB RAM और 256GB स्टोरेज देखने को मिलती है। फोन की कीमत 45,999 रुपये है। यह दो फिनिश में आता है जिसमें ग्लेज्ड ग्रीन  और ग्लेज्ड ब्लैक शामिल है। मेरे पास इसकी ग्लेज्ड ग्रीन यूनिट थी। Realme GT Neo 3 और OnePlus 10R 5G इससे कम शुरुआती कीमत में आते हैं और समान स्पेसिफिकेशन ऑफर करते हैं। लेकिन  Reno 8 Pro 5G में सिंगल वेरिएंट होने का मतलब है कि यह केवल प्रीमियम स्मार्टफोन्स के मुकाबले में उतारा गया है। 
 

Oppo Reno 8 Pro 5G का डिजाइन

Oppo Reno 8 Pro का डिजाइन पहली नजर में ही ध्यान खींच लेता है। इस प्राइस सेग्मेंट के दूसरे स्मार्टफोन्स की तुलना में यह काफी आकर्षक लगता है। 7.34mm के साथ यह बहुत ज्यादा पतला तो नहीं है लेकिन मोटा भी नहीं कहा जा सकता है। फोन 183ग्राम वजन का है जो आश्चर्यजनक रूप से हल्का है, क्योंकि इसका फ्रेम एल्युमिनियम एलॉय का बना हुआ है जो न केवल अच्छा दिखता है, बल्कि प्रीमियम फील होता है। पीछे की ओर ग्लॉसी ग्लास पैनल है जिस पर Gorilla Glass 5 का प्रोटेक्शन है और यह आसानी से उंगलियों के निशान इस पर नहीं पड़ने देता है। 

Oppo

इसके कैमरा इसके डिजाइन को सबसे अलग दिखाते हैं। कैमरा मॉड्यूल के साथ लेंस कटआउट एकदम फिट बैठते हैं। दरअसल कैमरा मॉड्यूल इसके रियर ग्लास पैनल का ही एक्सटेंशन है। मॉड्यूल के नीचे हल्का सा ढलाव दिया गया है जिसके नीचे मेरे हाथ की पहली उंगली सेट हो जाती थी, और फोन को एक हाथ से हैंडल करना काफी आसान लग रहा था। 
फोन का डिस्प्ले फ्लैट है लेकिन किनारों पर हल्का कर्व दिया गया है जो फ्रेम के तीखे कोनों के साथ जाकर मिल जाता है। इस प्राइस पॉइंट पर मैंने इतने पतले बेजल नहीं देखे हैं। डिस्प्ले में टॉप और बॉटम पर तो बेहद पतले बेजल हैं ही, लेकिन लेफ्ट और राइट साइड में उससे भी ज्यादा पतले बेजल दिए गए हैं, जो कि मुश्किल से 1.48mm के हैं। इसके कारण फोन काफी मॉर्डन और शार्प लुक में दिखता है। 

अबकी बार ओप्पो ने रेनो सीरीज के फैन्सी डिजाइन जैसे, शार्क फिन सेल्फी कैमरा को शामिल करने की बजाए एक मैच्योर स्टेप लिया है और फोन में डस्ट और वॉटर रसिस्टेंस के लिए IP54 रेटिंग को शामिल किया है। इस सेग्मेंट में केवल Motorola Edge 30 Pro ही इकलौता ऐसा स्मार्टफोन है जो लगभग समान IP52 रेटिंग के साथ आता है। 
 

Oppo Reno 8 Pro 5G के स्‍पेसिफ‍िकेशंस और सॉफ्टवेयर

Oppo Reno 8 Pro 5G में MediaTek Dimensity 8100-Max SoC है, साथ में MariSilicon X NPU है जिसके लिए कंपनी का कहना है कि यह मुख्य रूप से वीडियो रिकॉर्डिंग में सहायता के लिए इस्तेमाल होता है।  MariSilicon X NPU नया नहीं है, इसकी घोषणा सबसे पहले Oppo Find X5 Pro के लॉन्च के साथ की गई थी, जो एक प्रीमियम स्मार्टफोन था, लेकिन भारत में लॉन्च नहीं किया गया था। 

रेनो 8 प्रो 5 जी एक्सपेंडेबल स्टोरेज का ऑप्शन नहीं देता है, लेकिन फोन में दो नैनो-सिम कार्ड की जगह है जिसमें डुअल 5G सपोर्ट है। फोन डुअल स्टैंडबाय सपोर्ट करता है और साथ में स्टैंड अलॉन और नॉन स्टैंड अलॉन 5जी बैंड्स को भी सपोर्ट करता है। दूसरे कनेक्टिविटी ऑप्शंस में Wi-Fi 6, Bluetooth 5.3 और NFC शामिल हैं। बॉक्स में आपको USB Type-C टू Type-A केबल, एक 80W चार्जर और पारदर्शी टीपीयू केस मिलता है। 

Oppo

सॉफ्टवेयर की बात करें तो कंपनी ने कलर ओएस के कुछ खास हिस्सों को इसके खुद के स्मार्टफोन्स के लिए रिजर्व रखा है। फोन के कस्टमाइजेशन की खूबी है कि इसमें सिलेक्ट किए गए वॉलपेपर के कौन से कलर को उठाना है, यह भी चुना जा सकता है। साथ ही इसका यूनीक फॉन्ट और ओप्पो का ओ-हैप्टिक्स (वाइब्रेशन सिस्टम) कुछ ऐसी चीजें हैं जो मुझे OnePlus 10R 5G Endurance Edition या Realme GT Neo 3 (150W) में भी देखने को नहीं मिलीं।  

Oppo Reno 8 Pro 5G का O-Haptics सिस्टम एक एक्स एक्सिस लीनियर मोटर का इस्तेमाल करता है जो फीडबैक के लिए बहुत सटीक है। फोन के 3डी रिंगटोन फीचर के लिए इस्तेमाल करते समय भी यह अच्छे से काम करता है। 3डी रिंगटोन फीचर भी ओप्पा का एक्सक्लूसिव फीचर है। ओप्पो ने एक फ्लोटिंग विंडो फीचर भी दिया है जिससे आप मल्टीपल ऐप्स को शेयरिंग के लिए छोटे छोटे फ्लोटिंग यानि स्क्रीन पर तैरते विंडोज में खोल सकते हैं। रेनो 8 प्रो 5G ColorOS 12.1 पर चलता है जो कि Android 12 पर आधारित है। कंपनी दो साल के Android OS अपडेट और चार साल के सिक्योरिटी अपडेट का वादा करती है जो कि अच्छी बात है। 

Oppo

मुझे एक चीज इसमें जो अच्छी नहीं लगी, वह थी इसके थीम ऐप से मिलने वाली रोजाना की नोटिफिकेशंस। यह मुझे नया वॉलपेपर डाउनलोड करने या नया ओप्पो स्मार्टफोन खरीदने के लिए कहता रहता था। 40 हजार रुपये से ऊपर की कीमत के स्मार्टफोन में भी कई सारे प्री-इंस्टॉल्ड थर्ड पार्टी ऐप्स थे जैसे Dailyhunt, Josh, Moj और PhonePe आदि। लेकिन यह अच्छी बात रही कि इनमें से कईयों को हटाया जा सकता था। इसके अलावा ओप्पो के भी बहुत सारे ऐप्स जैसे Soloop Cut, O Relax, DocVault आदि थे। ये वैसे तो उपयोगी थे लेकिन जरूरत पड़ने पर इनको हटाया भी जा सकता था। 
 

Oppo Reno 8 Pro 5G की परफॉर्मेंस

बेंचमार्क के मामले में फोन ने उम्मीद के मुताबिक परफॉर्म किया। AnTuTu पर फोन ने सिंगल और मल्टी कोर टेस्ट में क्रमश: 901 पॉइंट्स और 3,532 पॉइंट्स का स्कोर किया। फोन का सॉफ्टवेयर परफॉर्मेंस भी बढ़िया है। इसमें Dimensity 8100-Max SoC मिलता है जिसमें LPDDR5 RAM और UFS 3.1 स्टोरेज दी गई है। मल्टी टास्किंग और मल्टीपल ऐप्स को लॉन्च करने में फोन काफी तेज है। इसका 120Hz रिफ्रेश रेट वाला डिस्प्ले सॉफ्टवेयर एक्पीरीयंस को और स्मूद बनाता है। एक फ्लेक्सिबल एमोलेड डिस्प्ले के साथ जाना कंपनी के लिए फायदेमंद रहा, जिससे कि बेजल्स को बेहद पतले बनाना संभव हो सका।    

Oppo

इसका 6.7 इंच का फुलएचडी प्लस डिस्प्ले काफी चमकीला है। कलर्स इसमें वाइब्रेंट हैं और व्यूइंग एंगल कमाल हैं। Realme GT Neo 3 (150W) और OnePlus 10R Endurance Edition से तुलना करें तो इसका डिस्प्ले काफी बेहतर है। यह HDR10+ सर्टिफिकेशन के साथ आता है और Netflix तथा Amazon Prime Video जैसे ऐप्स में कंटेंट देखने में आनंद देता है। इसके स्टीरिओ स्पीकर्स काफी लाउड हैं और पूरी वॉल्यूम बढ़ाने पर भी काफी क्लियर साउंड करते हैं। इनका आउटपुट काफी संतुलित है। 

मुझे इसकी डिस्प्ले में दिया गया फिंगरप्रिंट स्कैनर पसंद नहीं आया। किसी कारण से यह मेरी उंगली के निशान को नहीं रीड कर पा रहा था। फिर मैंने पाया कि इस पर थोड़ा ज्यादा जोर डाला जाता है तो आसानी से पहचान कर लेता है। 

फोन की गेमिंग परफॉर्मेंस काफी अच्छी है। कैमरा ऐप का इस्तेमाल हो या गेमिंग हो, इसके ग्रेफाइट आधारित कूलिंग सिस्टम ने फोन को गर्म नहीं होने दिया। Call of Duty: Mobile उच्चतम ग्राफिक्स सेटिंग्स पर भी स्मूद चला। Asphalt:9 Legends भी बेहद स्मूद चला लेकिन हैरानी की बात ये लगी कि इसमें 60fps मोड इनेबल्ड नहीं मिला। फोन में 360Hz का टच सैम्पिलिंग रेट है जो फास्ट पेस वाले गेम्स में काफी अच्छा साथ देता है लेकिन सुधार की गुंजाइश भी है। 

फोन की बैटरी को अपग्रेड नहीं किया गया है। Oppo Reno 7 Pro 5G की तरह इसमें 4,500mAh बैटरी मिलती है और साथ में 80W फास्ट चार्जिंग भी दी गई है। इस चार्जर की मदद से फोन 0 से 52 प्रतिशत 15 मिनट में चार्ज हो जाता है और 34 मिनट में फुल चार्ज हो जाता है। हमारे एचडी वीडियो लूप टेस्ट में फोन 18 घंटे 25 मिनट चला। नॉर्मल यूसेज में फोन डेढ़ दिन आराम से चल जाता है जो कि एक स्लिम डिवाइस के लिए बहुत अच्छी बात है। यहां पर वायरलेस चार्जिंग नहीं मिलती है जो कि इस सेग्मेंट या इससे नीचे के सेग्मेंट के दूसरे स्मार्टफोन्स में आसानी से मिल जाती है। 
 

Oppo Reno 8 Pro 5G के कैमरा

Oppo Reno 8 Pro 5G में ट्रिपल रियर कैमरा सेटअप मिलता है। इसमें 50-मेगापिक्सल का प्राइमरी कैमरा Sony IMX766 सेंसर है लेकिन OIS सपोर्ट नहीं है। दूसरा कैमरा 8-मेगापिक्सल का अल्ट्रा-वाइड-एंगल लेंस है और तीसरा 2-मेगापिक्सल का मैक्रो कैमरा है। सेल्फी के लिए 32-मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा है और ऑटोफोकस के साथ आता है। ओप्पो का कैमरा इंटरफ़ेस OnePlus और Realme के यूजर्स के लिए जाना-पहचाना महसूस होगा। इंटरफ़ेस बहुत साधारण है लेकिन कुछ मोड के लिए एडवांस ऑप्शंस को इलिप्सिस बटन पर टैप करके एक्सेस किया जा सकता है।

img20220715140553
img20220715140550
img20220726111947

मेन कैमरा से डे-लाइट में खींची गई तस्वीरें काफी शार्प और क्लियर थीं जिनमें कलर रिप्रोडक्शन अच्छा था। अल्ट्रावाइड एंगल कैमरा के साथ रिजल्ट बहुत औसत थे, डाइनेमिक रेंज सीमित थी, मतलब वहां छाया वाली जगहों पर डिटेल्स कम थीं। ऐसा लगा कि मैक्रो कैमरा केवल स्पेक्स शीट को भरने के लिए एड किया गया था, क्योंकि इससे फोटो लेना बहुत आसान नहीं था, और फोकस फिक्स था। AI सीन एनहांस्मेंट का सही फर्क इस फोन में दिखता है। स्टिल फोटो लेते समय इसकी मदद से अच्छी डाइनेमिक रेंज मिली, खासकर डे लाइट में। 

सेल्फी शार्प थीं और डिटेल व डाइनेमिक रेंज काफी अच्छी थी। सेल्फी पोर्ट्रेट शॉट्स भी अच्छे थे लेकिन फोन बैकग्राउंड को बहुत अच्छी तरह से एक्सपोज नहीं कर पा रहा था। लो-लाइट में इमेज अच्छी दिखीं, बशर्तें कि पास में लाइट का सोर्स हो। ऑटोफोकस वाले 32 मेगापिक्सल के सेल्फी कैमरा से मैं बेहतर करने की उम्मीद कर रहा था। 

लो-लाइट में प्राइमरी कैमरा से ऑटो मोड में जब फोटो ली गई तो डिटेल्स अच्छी थीं। ओआईएस की कमी यहां पर महसूस हुई क्योंकि कैमरा किसी सतह पर उभरे दानों की डिटेल्स को अच्छी तरह से कैप्चर नहीं कर पा रहा था। डार्क एरिया में काले धब्बों वाला टेक्स्चर मिल रहा था। यहां फोटो कैप्चर करते समय फोन एक से दो सेकंड का समय ज्यादा ले रहा था और नाइट मोड में यह समय 3 सेकंड तक जा रहा था।

img20220721210346
img20220721210402
img20220721213622

कैमरा नाइट मोड में डिटेल कैप्चर करने में बहुत सक्षम दिखा क्योंकि इसने वह डिटेल्स भी कैप्चर कीं जो मैं अपनी आंखों से भी नहीं देख पा रहा था। नॉइज रिडक्शन का एल्गोरिदम ज्यादा एग्रेसिव दिया गया है, साथ ही लम्बे एक्पोजर और OIS की कमी के कारण फोटो उतनी बेहतर नहीं आती, जितनी आ सकती थी। बहुत सारी स्ट्रीट लाइट्स में खींची गई फोटो शार्प आईं लेकिन टेक्स्चर यहां भी कुछ फ्लैट ही था। 

Oppo Reno 8 Pro 5G का प्राइमरी कैमरा हार्डवेयर लेवल DOL HDR वीडियो रिकॉर्डिंग का इस्तेमाल करता है जिसके साथ सपोर्ट में ओप्पो का MariSilicon X NPU दिया गया है। इस सिस्टम के साथ बेहतर डाइनेमिक रेंज दिए जाने का दावा किया गया है। हालांकि, मेरे एक्सपीरियंस में 1080p 30fps वीडियो औसत ही रही और डिटेल्स की कमी लगी। 1080p 60fps वीडियो काफी शेकी लगी, स्टेबलाइजेशन की बड़ी कमी थी। 4K 30fps पर वीडियो अच्छी आई। इसमें डिटेल्स काफी थीं और डाइनेमिक रेंज भी अच्छी थी। 

AI Highlight फीचर को ऑन करने के बाद वीडियो में अस्थिर फ्रेम रेट चलने लगा और डिटेल्स भी कम हो गईं। डे-लाइट में शूट करने के बावजूद टेक्स्चर भी इसमें सॉफ्ट रहा और अंधेरे वाले एरिया में नॉइज भी दिखा। लो लाइट में 4K वीडियो रेगुलर मोड में शूट करने पर बेस्ट क्वालिटी में रिकॉर्ड हुआ। मुझे AI Highlight को बंद रखना ही बेहतर लगा, क्योंकि यह वीडियो क्वालिटी को खराब ही कर रहा था। 
 

हमारा फैसला

Oppo Reno 8 Pro 5G जाहिर तौर पर प्रीमियम स्मार्टफोन लगता है। यह हल्का है, फैशनेबल है और 45,999 रुपये की कीमत में भी आपको यह प्रीमियम लगेगा। इस प्राइस पॉइंट पर ऐसे डिजाइन और बिल्ड क्वालिटी के साथ कोई दूसरा स्मार्टफोन ढूंढ पाना मुश्किल है। दुर्भाग्य से, आपकी उम्मीदें कैमरा डिपार्टमेंट में आकर कम होने लगती हैं। कैमरा बेस्ट नहीं है, जैसा कि इस फोन का प्राइस लिया गया है। 

Xiaomi 11T Pro 5G एक सॉलिड विकल्प के रूप में यहां सामने आता है जिसमें बेहतर हार्डवेयर और कैमरा परफॉर्मेंस है, कम कीमत में अच्छे मैक्रो कैमरा के साथ। यह डिजाइन में थोड़ा चूक जाता है लेकिन 37,999 रुपये की शुरुआती कीमत में जबरदस्त वैल्यू फॉर मनी देता है।  

Oppo Reno 8 Pro 5G फोन इसके पुराने मॉडल से काफी आगे निकल गया है, इसलिए अब यह OnePlus और Motorola के कंधे से कंधा मिलाकर खड़ा है। यहां पर OnePlus 9RT 5G भी मौजूद है जो अच्छी कैमरा परफॉर्मेंस देता है, Snapdragon 888 SoC से लैस है, 120Hz OLED पैनल है और 42,999 रुपये में आता है। उसके बाद Motorola Edge 30 Pro है जिसमें Snapdragon 8 Gen 1 SoC है, क्वालिटी रियर कैमरा है, 60 मेगापिक्सल सेल्फी कैमरा है, IP52 रेटिंग है और नियर स्टॉक एंड्रॉयड सॉफ्टवेयर एक्सपीरियंस देता है।  

OnePlus 10R Endurance Edition और Realme GT Neo 3 (150W) भी इसी कीमत में आते हैं लेकिन फास्ट चार्जिंग आपकी पहली प्राथमिकता है तो आप इन्हें देख सकते हैं। आखिर में, Redmi K50i 5G है जिसकी कीमत 25,999 रुपये है। यह समान प्रोसेसर से लैस है, 144Hz डिस्प्ले है, 5,080mAh बैटरी है, लेकिन फोन गेमिंग की ओर झुकाव के साथ बनाया गया है।   

Oppo Reno 8 Pro 5G उनको पसंद आएगा जो ओप्पो के फैन हैं, बेहद आकर्षक डिजाइन चाहते हैं, आईपी रेटिंग चाहते हैं और फास्ट चार्जिंग भी चाहते हैं। फोन आखिर में थोड़ा महंगा ही साबित होता है और बेस्ट वैल्यू फॉर मनी नहीं है। 

 

[ad_2]

Source link

Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *