OnePlus Buds Z2 TWS Earphones Review: दाम में कम, साउंड में दम!

hindinewsviral.com
12 Min Read

[ad_1]

oneplus
 

OnePlus Buds Z2 Design

वनप्लस ने भले ही ओरिजनल Apple AirPods के पॉपुलर ‘आउटर ईयर फिट’ से शुरुआत की हो, लेकिन कंपनी अब उसके बाद एक्टिव नॉइस कैंसिलेशन के साथ ‘इन-ईयर फिट’ प्रोडक्ट्स ही बना रही है। OnePlus Buds Z2 का डिजाइन भी कुछ इस तरह बनाया गया है कि एक्टिव नॉइस कैंसिलेशन ज्यादा से ज्यादा मिले। बड्स कानों में आराम से फिट हो सकें इसके लिए बॉक्स में सिलिकॉन ईयर टिप्स के तीन पेअर दिए गए हैं, जिनके साथ छोटी यूएसबी टाइप-सी चार्जिंग केबल भी मिलती है।

OnePlus Buds Z को देखा जाए, तो OnePlus Buds Z2 के डिजाइन में कुछ खास बदलाव नहीं किया गया है। ईयरपीस और चार्जिंग केस एक जैसे ही दिखते हैं। नए मॉडल में एक अंतर देखने को मिलता है कि एक्टिव नॉइस कैंसिलेशन के लिए इनर माइक्रोफोन पर ग्रिल कवर दिया गया है। दूसरा बड़ा बदलाव कलर का है। OnePlus Buds Z2 में ब्लैक और व्हाइट कलर का विकल्प मिल जाता है, जो कि OnePlus Buds Z में नहीं था। 

मुझे अपनी रिव्यू यूनिट का ऑल-ब्लैक कलर काफी पसंद आया। हालांकि, डिवाइस की ग्लॉसी फिनिश बहुत जल्द उंगलियों के निशान पकड़ लेती है, इसलिए ईयरपीस और केस को बार बार साफ करने की जरूरत पड़ती है। केस के पीछे की तरफ चार्जिंग पोर्ट और पेअरिंग बटन मौजूद हैं। लिड के टॉप पर OnePlus लोगो दिया गया है और सामने की ओर एक इंडिकेटर लाइट मौजूद है।

केस बहुत ज्यादा बड़ा नहीं है और जेब में आसानी से फिट हो जाता है। केस के साथ IPX4 वॉटर रसिस्टेंस रेटिंग दी गई है, जबकि ईयरपीस के साथ IP55 डस्ट और वॉटर रसिस्टेंस रेटिंग मिलती है। प्रत्येक ईयरपीस का वज़न 4.5 ग्राम है और दोनों में तीन-तीन माइक्रोफोन दिए गए हैं, जो कि ANC और वॉइस पिकअप के आते हैं। 

ईयरपीस की बाहरी साइड टच-सेंसिटिव है जिससे प्लेबैक कंट्रोल किया जा सकता है। इन्हें OnePlus स्मार्टफोन पर ब्लूटूथ सेटिंग्स के जरिए या फिर HeyMelody ऐप के जरिए कस्टमाइज़ किया जा सकता है। इसके जरिए आप म्यूजिक प्लेबैक को कंट्रोल कर सकते हैं, ANC और ट्रांस्पेरेंसी मोड के बीच स्विच कर सकते हैं, स्मार्टफोन पर वॉइस असिस्टेंट को चालू कर सकते हैं और अलग अलग जेस्चर का इस्तेमाल करते हुए पेअर किए गए आखिरी दो डिवाइस के बीच स्विच कर सकते हैं। 

अगर आप OnePlus स्मार्टफोन के साथ OnePlus Buds Z2 इस्तेमाल करते हैं, तो ये सभी सेटिंग्स और कस्टमाइजेशन आपको ब्लूटूथ सेटिंग्स में आसानी से मिल जाती हैं। इसमें आप ईयरपीस और चार्जिंग केस की बैटरी का मौजूदा लेवल चेक कर सकते हैं। आप दिए गए दो एएनसी मोड – नॉर्मल और मैक्स के बीच स्विच कर सकते हैं। साथ ही एक्टिव ब्लूटूथ कोडेक को सिलेक्ट कर सकते हैं, म्यूजिक को प्ले और पॉज करने के लिए ईयर डिटेक्शन के बीच स्विच कर सकते हैं, ईयरफिट टेस्ट कर सकते हैं और ईयरफोन्स के फर्मवेअर को भी अपडेट कर सकते हैं।
 

oneplus

वनप्लस स्मार्टफोन पर यह कस्टमाइजेशन मेन्यु इस्तेमाल करने में काफी आसान और तेज भी है। लेकिन आपके पास अगर वनप्लस स्मार्टफोन नहीं है, तो आप HeyMelody ऐप (iOS और Android पर उपलब्ध) के जरिए भी कस्टमाइजेशन कर सकते हैं। हालांकि, ऐप में स्मूदनेस थोड़ी कम मिलेगी, लेकिन यह Buds Z2 के साथ अच्छा काम करता है। यहां पर निराश करने वाली बात यह है कि ऐप के जरिए या वनप्लस स्मार्टफोन की सेटिंग्स से जरिए आप इक्वलाइज़र को कस्टमाइज़ नहीं कर सकते हैं।  

Android स्मार्टफोन्स के लिए इसमें गूगल फास्ट पेअर (Google Fast Pair) का सपोर्ट दिया गया है। डॉल्बी एटमॉस और गेमिंग मोड (94ms लेटेंसी) केवल OnePlus 7 और उसके बाद के कुछ चुनिंदा स्मार्टफोन्स पर काम करते हैं। ईयरफोन्स में 11mm के डायनेमिक ड्राइवर दिए गए हैं। इनमें 20 से 20,000Hz की फ्रिक्वेंसी रिस्पोन्स रेंज है और SBC और AAC ब्लूटूथ कोडेक से लैस ब्लूटूथ 5.2 की कनेक्टिविटी दी गई है। 

OnePlus Buds Z2 की बैटरी इस प्राइस सेगमेंट के हिसाब से काफी अच्छी है। एएनसी मोड के साथ 60 प्रतिशत वॉल्यूम पर ईयरपीस 4 घंटे 30 मिनट तक बैकअप देते हैं। चार्जिंग केस की मदद से इसे 4 बार फुल चार्ज किया जा सकता है, यानि कुल बैटरी लाइफ 23 घंटे की हो जाती है। फास्ट चार्जिंग का विकल्प नहीं दिया गया है, लेकिन 10 मिनट के चार्ज में 5 घंटे का प्लेबैक टाइम मिलने का दावा किया गया है। 
 

Punchy sound, good active noise cancellation on the OnePlus Buds Z2

अपने ट्रू वायरलेस ईयरफोन्स सेगमेंट में वनप्लस काफी धीमी रफ्तार से आगे बढ़ा है। कंपनी ने गिनती के ईयरफोन्स लॉन्च किए हैं और 9,990 रुपये की कीमत वाला OnePlus Buds Pro इनमें विजेता है। OnePlus Buds Z2 इसकी आधी कीमत में आता है, लेकिन महंगे हेडसेट के जैसे ही इसमें एक फीचर कॉमन है, और वो है इसका एक्टिव नॉइस कैंसिलेशन। इस क्षेत्र में Buds Z2 ने वैसा ही परफॉर्म किया जैसी मैंने उम्मीद की थी। 

OnePlus Buds Z2 की परफॉर्मेंस डिवाइस पर निर्भर नहीं करती है, यानि कि आप इसे कौन से स्मार्टफोन से कनेक्ट कर रहे हैं, उससे बहुत अंतर नहीं पड़ता है। SBC और AAC ब्लूटूथ कोडेक की मदद से मैंने OnePlus 9  के साथ इन ईयरफोन्स को पेअर किया और डॉल्बी एटमॉस और लो-लेटेंसी मोड का इस्तेमाल कर पाया। रिव्यू के दौरान काफी समय तक मैंने इनको Apple iPhone 13 के साथ भी कनेक्ट किया और मैं HeyMelody ऐप की मदद से आसानी से इसे कस्टमाइज कर पा रहा था। 

आप अकसर किफायती ट्रू वायरलेस हेडसेट खरीदते समय सॉनिक सिग्नेचर साउंड की उम्मीद करते हैं, जो बेस (lows) और ट्रिबल्स (highs) को थोड़ा बढ़ा दे और मिड-रेंज को हल्का दबा दें। कुछ ऐसा ही साउंड ज्यादातर खरीदार अपने किफायती ईयरफोन्स में तलाशते हैं। वनप्लस के इन ईयरफोन्स का पंची साउंड मुझे कुछ ट्रैक्स में काफी अच्छा लगा।
 

oneplus

 मैंने इसमें Keys N Krates का Glitter गाना सुना, बीट में  lows मुझे काफी एग्रेसिव और पावरफुल सुनाई दिए, जबकि 70 के दशक के मेलोडी गानों का साउंड काफी क्लीन था। OnePlus Buds Z2 में एक खूबी आपको देखने को मिलेगी कि इन ईयरबड्स में बेस और ट्रिबल का बहुत अच्छा बैलेंस है। David Guetta के फास्ट और एग्रेसिव गाने ‘Dirty Sexy Money (Mesto Remix)’ में बेस पर फोकस करने वाला साउंड मुझे काफी पसंद आया। OnePlus Buds Z2 काफी लाउड हैं और पंचिंग साउंड के अलावा फास्ट पेस वाले म्यूज़िक के साथ भी पेस को बनाए रखने में सक्षम हैं। इस प्राइस रेंज के दूसरे हेडसेट्स से तुलना करूं तो इनमें बेस के साथ री-वर्ब महसूस होता है, जो बाकियों में नहीं मिलता। OnePlus Buds की रफ और फिनिशलेस साउंड की तुलना में नए बड्स काफी रिफाइन्ड साउंड देते हैं।

OnePlus 9 के साथ इस्तेमाल करते समय डॉल्बी एटमॉस और लो-लेटेंसी मोड ने अच्छा काम किया। Atmos को Apple Music के हाई रिजॉल्यूशन साउंड की तुलना में थोड़े ओपन और एयरी साउंड के लिए बनाया गया है। वनप्लस स्मार्टफोन पर प्रो गेमिंग मोड चालू करते ही लो-लेटेंसी मोड एक्टिवेट हो गया। यह बेहतर लेटेंसी देने में कामयाब रहा। 

एक्टिव नॉइस कैंसिलेशन 5,000 रुपये से कम कीमत वाले बहुत चुनिंदा ट्रू वायरलेस ईयरफोन्स में ही मिलता है, लेकिन वनप्लस ने इस एरिया में अच्छा काम किया है। हालांकि, महंगे ईयरफोन्स जैसे OnePlus Buds Pro और Nothing Ear 1 से तुलना करें, तो इसमें थोड़ा अंतर महसूस हुआ, लेकिन फिर भी कीमत के लिहाज से मुझे ये इस प्राइस रेंज में मेरे द्वारा इस्तेमाल किए गए अन्य ईयरफोन्स से बेहतर लगे।

ANC (एक्टिव नॉइस कैंसिलेशन) के लिए दो मोड दिए गए हैं- नॉर्मल और मैक्स। मुझे इन दोनों में कोई खास अंतर मालूम नहीं पड़ा। हालांकि इनको एक्टिवेट करने के बाद म्यूज़िक, ऑडियोबुक और कॉल्स सुनते समय इंडोर और आउटडोर में सुनाई देने वाले शोर में काफी कमी आ गई।

ट्रांस्पेरेंसी मोड में मैं आसपास की आवाजों को आसानी से सुन पा रहा था, लेकिन मेरी खुद की आवाज बहुत ज्यादा उभरी हुई और अजीब सुनाई दे रही थी। ऐसे में किसी से बात करते समय ईयरफोन्स को कान से निकाल देना ही बेहतर विकल्प लगा। डिवाइस की कॉल क्वालिटी और कनेक्शन स्टेबिलिटी काफी अच्छी है। पेयर किए गए डिवाइस से 4 मीटर तक की दूरी पर भी ईयरफोन्स में कोई स्टेबिलिटी प्रॉब्लम महसूस नहीं हुई। 
 

Verdict

OnePlus ने ट्रू वायरलेस सेगमेंट में कदम रखने में भले ही काफी देर लगाई, लेकिन अपने हालिया प्रोडक्ट्स की बदौलत यह इस सेगमेंट में बड़ी छाप छोड़ती है। OnePlus Buds Z2 भी इसी ट्रेंड में आगे बढ़ते हुए दिखते हैं और काफी असरदार साउंड एक्सपीरियंस के साथ ही ANC और कुछ काम के फीचर्स देते हैं, जिनमें फास्ट चार्जिंग और Dolby Atmos सपोर्ट शामिल हैं। हालांकि, इनका भरपूर इस्तेमाल करने के लिए आपको इन्हें हाल में लॉन्च हुए OnePlus स्मार्टफोन्स के साथ इस्तेमाल करना होगा। अगर आपके पास अन्य एंड्रॉयड स्मार्टफोन या iPhone है, तब भी OnePlus Buds Z2 टीडब्ल्यएस 5,000 रुपये से कम कीमत में बहुत अच्छा विकल्प है। 

Realme भी इस प्राइस सेगमेंट में समान फीचर्स ऑफर करती हैस लेकिन वनप्लस की क्वालिटी इस सेगमेंट में बाकियों को कड़ी टक्कर देती है। डिवाइस में मुझे कोई खास कमी नजर नहीं आई। अगर आपके पास 5 हजार रुपये का एक टाइट बजट है, तो आप इन्हें जरूर खरीद सकते हैं, लेकिन मुझे लगता है कि थोड़ा पैसा और खर्च करके आप Nothing Ear 1 या Jabra Elite 75t भी खरीद सकते हैं, जो इससे बेहतर विकल्प हैं।

[ad_2]

Source link

Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *