कभी रहे टीम इंडिया के संकटमोचक, अब 11वें नंबर के बैटर से भी कम रन बना रहे, कैसे होगी वापसी!

hindinewsviral.com
3 Min Read

[ad_1]

नई दिल्ली. भारतीय क्रिकेट टीम में जगह गंवा चुके अजिंक्य रहाणे के फैंस भले ही उनकी वापसी की उम्मीद कर रहे हों, पर इस बैटर की फॉर्म साथ नहीं दे रही है. घरेलू क्रिकेट में मुंबई की कप्तानी कर रहे अजिंक्य रहाणे के बल्ले से 5 पारियों में सिर्फ 108 रन निकले हैं. इनमें से भी 78 रन त्रिपुरा की कमजोर गेंदबाजी के खिलाफ. रहाणे की बुरी फॉर्म ना सिर्फ उनके करियर को ढलान की ओर ले जा रही है, बल्कि उनकी टीम पर भी पारी पड़ रही है. मंगलवार को ही मुंबई की टीम अपने से कमजोर मानी जाने वाली ओडिशा की टीम से 86 रन के भारी भरकम अंतर से हार गई.

मुंबई और ओडिशा के बीच विजय हजारे ट्रॉफी का मुकाबला मंगलवार को अलूर में खेला गया. मुंबई के कप्तान अजिंक्य रहाणे ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी. उनका यह फैसला तब सही नजर आया, जब मुंबई गेंदबाजों ने ओडिशा को 199 के स्कोर पर ढेर कर दिया. मुंबई की ओर से मोहित अवस्थी ने सबसे अधिक 3 विकेट झटके. ओडिशा के लिए कार्तिक बिस्वाल ने सबसे अधिक 64 रन बनाए.

मुंबई की टीम जब 200 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी तो लगा नहीं कि उसके लिए यह मुश्किल काम होगा. लेकिन ओडिशा के गेंदबाजों ने इस सामान्य लक्ष्य को पहाड़काय बना दिया. ओडिशा ने मुंबई को लगातार झटके दिए और कभी भी ऐसा नहीं लगा कि अजिंक्य रहाणे की टीम यह मुकाबला जीतने की स्थिति में है.

मुंबई के बैटर्स के खराब प्रदर्शन का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि उनका टॉप स्कोरर 11वें नंबर का बैटर रहा. 11वें नंबर पर उतरे रॉयस्टन डायन ने मुंबई के लिए सबसे अधिक 24 रन बनाकर नाबाद रहे. टॉपऑर्डर के 6 बैटर्स में सबसे अधिक 23 रन हार्दिक तैमूर ने बनाए. कप्तान अजिंक्य रहाणे 7 रन बनाकर आउट हुए. रहाणे के बाद मैदान पर उतरे ऑलराउंडर शिवम दुबे 8 रन बनाकर आउट हुए.

Tags: Ajinkya Rahane, Mumbai, Vijay hazare trophy

[ad_2]

Source link

Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *