Market Outlook : निफ्टी 20950 के आसपास हुआ बंद, जानिए 7 दिसंबर को कैसी रह सकती है बाजार की चाल

hindinewsviral.com
4 Min Read

[ad_1]

Market Outlook : आज 6 दिसंबर को भी बाजार बढ़त लेकर बंद हुआ है। निफ्टी 20,950 के आसपास बंद हुआ है। कारोबार के अंत में सेंसेक्स 357.59 अंक या 0.52 फीसदी बढ़कर 69,653.73 पर और निफ्टी 82.60 अंक या 0.40 फीसदी की तेजी लेकर 20,937.70 पर बंद हुआ है। लगभग 1659 शेयर बढ़े हैं। वही, 1592 शेयर गिरे हैं। जबकि, 82 शेयरों में कोई बदलाव नहीं हुआ है। विप्रो, एलटीआईमाइंडट्री, आईटीसी, एलएंडटी और टीसीएस निफ्टी के टॉप गेनर रहे हैं। जबकि अदानी एंटरप्राइजेज, आयशर मोटर्स, सिप्ला, एनटीपीसी और अल्ट्राटेक सीमेंट निफ्टी के टॉप लूजर रहे हैं।

अधिकांश सेक्टोरल इंडेक्स हरे निशान में बंद हुए हैं। कैपिटल गुड्स, एफएमसीजी, आईटी, तेल और गैस और पावर में 1-2 फीसदी की बढ़ोतरी देखने को मिली है। जबकि बैंक और हेल्थ केयर में 0.5 फीसदी की गिरावट आई है। बीएसई मिडकैप और स्मॉलकैप इंडेक्स मामूली बढ़त के साथ बंद हुए हैं।

7 दिसंबर को कैसी रह सकती है बाजार की चाल

एमके ग्लोबल फाइनेंशियल सर्विसेज के जयकृष्ण गांधी का कहना है कि चार में से तीन विधानसभा चुनावों में भाजपा की जीत से निवेशकों का विश्वास बढ़ा है। इसके चलते बाजार नई ऊंचाई पर पहुंच गया है। राजनीतिक अनिश्चितता के कारण शुरुआत में सतर्क रहे एफपीआई भी अब खरीदारी करते दिख रहे हैं। फाइनेंशियल शेयरों और अदानी समूह की कंपनियों ने इस हफ्ते इंडेक्स में आई 3.5 फीसदी की रैली में लीडर की भूमिका निभाई है। देश के अच्छे ग्रोथ आंकड़ों ने भी जोश भर दिया है। कच्चे तेल की कीमतों में हालिया गिरावट ने महंगाई के फिर से बढ़ने की चिंताओं को कम कर दिया है। अगले साल की शुरुआत में अमेरिकी ब्याज दर में कटौती की उम्मीद से विदेशी निवेश भी बढ़ रहा जिससे बाजार में और तेजी आ सकती है।

जियोजित फाइनेंशियल सर्विसेज के विनोद नायर राज्य चुनावों के बाद बाजार में नई उम्मीद जागी है। एफआईआई की तरफ से हो रही खरीदारी, अमेरिकी और भारतीय दोनों बाजारों में महंगाई में गिरावट और बॉन्ड यील्ड की नरमी से बाजार को सपोर्ट मिल रहा है। चीन की क्रेडिट रेटिंग में गिरावट, तेल की कीमतों में नरमी और भू-राजनीतिक तनाव में कमी के बाद भारतीय बाजार में तेजी आई है। लेकिन इसके बावजूद, घरेलू बाजार का वैल्यूएशन महंगा होने से शॉर्ट टर्म में बाजार में मुनाफावसूली देखने को मिल सकती है। इसके अलावा, लंबे समय तक बने रहने वाले अल नीनो के कारण जलाशयों के स्तर में गिरावट आई है। साथ ही देश में बुआई का रकबा घटा है। इसकी वजह से आरबीआई को वित्त वर्ष 2024 की दूसरी छमाही के ग्रोथ अनुमान बढ़ाने और महंगाई के अनुमान को घटाने में मुश्किल हो सकती है।

आलू भुजिया से फ्रेंच फ्राइज तक, पश्चिमी स्नैक्स सेगमेंट में बीकाजी फूड्स की कामयाबी ने सबको चौंकाया

प्रोग्रेसिव शेयर्स के निदेशक आदित्य गग्गर का कहना है कि मौजूदा रैली कमजोर दिख रही है क्योंकि मिड और स्मॉलकैप का प्रदर्शन लगातार कमजोर बना हुआ है। रिकॉर्ड स्तर पर, निफ्टी 50 इंडेक्स ने ड्रैगनफ्लाई डोजी कैंडलस्टिक पैटर्न बनाया है जो आम तौर पर ट्रेंड में बदलाव का संकेत होता है। निफ्टी के आज के निचले स्तर से नीचे बंद होने पर ट्रेंड में बदलाव की पुष्टि होगी। जबकि ऊपर की तरफ 21,000 का मनोवैज्ञानिक स्तर निफ्टी के लिए रजिस्टेंस का काम करेगा।

डिस्क्लेमर: मनीकंट्रोल.कॉम पर दिए गए विचार एक्सपर्ट के अपने निजी विचार होते हैं। वेबसाइट या मैनेजमेंट इसके लिए उत्तरदाई नहीं है। यूजर्स को मनी कंट्रोल की सलाह है कि कोई भी निवेश निर्णय लेने से पहले सर्टिफाइड एक्सपर्ट की सलाह लें।

[ad_2]

Source link

Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *