janhvi Kapoor spoke on the death of mother Sridevi | मां श्रीदेवी के निधन पर बोलीं जाह्नवी कपूर: KWK-8 में कहा- ‘मैं फोन पर थी और खुशी के कमरे से रोने की आवाज आ रही थी’

hindinewsviral.com
4 Min Read

[ad_1]

5 घंटे पहले

  • कॉपी लिंक

करण जौहर के चैट शो ‘कॉफी विद करण-8’ में जाह्नवी कपूर और खुशी कपूर नजर आई थीं। चैट शो में जाह्नवी ने मां श्रीदेवी के निधन के बारे में बात करके इमोशनल हो गईं। शो में उन्होंने बताया- मैं अपने कमरे थी जब मेरे पास फोन आया और मुझे खुशी के रोने की आवाज आ रही थी। मैं रोते हुए उसके कमरे में भागकर गई लेकिन मुझे याद है कि जैसे ही उसने मेरी तरफ देखा तो उसने तुरंत रोना बंद कर दिया।

वो मेरे पास बैठ गई और मुझे शांत करवाने लगी। उस दिन के बाद मैंने कभी उसे रोते हुए नहीं देखा।’ वहीं इस पर खुशी कपूर ने कहा- मुझे लगा कि सबके लिए मुझे अपने आप को संभालना होगा क्यों कि मुझे लगता है कि मैं हमेशा ही स्ट्रॉन्ग रही हूं।

खुशी की कुछ आदतें मां से मिलती हैं

जाह्नवी ने अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए कहा कि मां और खुशी के बीच कुछ कॉमन आदतें हैं। उन्होंने कहा- खुशी बहुत शांत स्वभाव की इंसान हैं और मुझे लगता है कि उनमें और मम्मा में ये एक जैसी आदत है। इसके बाद वो रोने लगती हैं।

इसके बाद खुशी ने कहा- मुझे लगा कि परिवार के लिए उन्हें खुद को मजबूत बनाना होगा। मुझे इन सभी को संभालना है। क्योंकि मुझे लगता है कि मैं हमेशा से परिवार में सबसे स्ट्रॉन्ग रही हूं।

कब हुई थी श्रीदेवी की मौत

श्रीदेवी का निधन 24 फरवरी, 2018 को दुबई के एक होटल के कमरे में बाथटब में डूबने से हुआ था। बता दें वे अपने परिवार के साथ मोहित मारवाह की शादी अटेंड करने अपने परिवार के साथ दुबई गई थीं।

बोनी कपूर ने श्रीदेवी के निधन के बारे में बात की थी

एक पूराने इंटरव्यू में बोनी ने कहा था- यह नेचुरल डेथ नहीं बल्कि एक्सीडेंटल डेथ थी। मैंने इसके बारे में ना बोलने का फैसला किया था, क्योंकि जब मुझसे जांच और पूछताछ की जा रही थी तब मैंने लगभग 24 या 48 घंटों तक इसके बारे में बात की थी।’

लाई डिटेक्टर टेस्ट से भी गुजरना पड़ा
बोनी ने आगे बताया, ‘दरअसल, अधिकारियों ने हमसे कहा था कि उन्हें इतनी पूछताछ इसलिए करनी पड़ी क्योंकि इंडियन मीडिया का बहुत प्रेशर था, और अंत में उन्हें पता चला कि इसमें कोई झूठ नहीं था। इस दौरान मैं सभी तरह के टेस्ट से गुजरा, जिसमें लाई डिटेक्टर टेस्ट (Polygraph) तक शामिल था। और फिर, निश्चित रूप से जो रिपोर्ट आई उसमें स्पष्ट रूप से कहा गया कि यह एक्सीडेंटल था।’

श्रीदेवी हमेशा अच्छा दिखना चाहती थीं- बोनी कपूर
इंटरव्यू में बोनी ने बताया कि अपने निधन के वक्त भी श्रीदेवी डाइट पर थीं। वे बोले- ‘श्रीदेवी अक्सर भूखी रहती थीं, वह अच्छी दिखना चाहती थीं। वो यह सुनिश्चित करना चाहती थीं कि वह अच्छी स्थिति में रहें, ताकि स्क्रीन पर अच्छी दिखें।
जब से हमारी शादी हुई थी, तब से कुछ मौकों पर उन्हें ब्लैकआउट की समस्या हुई थी और डॉक्टर कहते रहे कि उसे लो बीपी की समस्या है।’

[ad_2]

Source link

Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *