IREDA IPO: लिस्टिंग में निवेशकों को बंपर फायदा, खरीदें, बेचें या होल्ड करें शेयर?

hindinewsviral.com
3 Min Read

[ad_1]

द इंडियन रिन्यूएबल एनर्जी डिवेलपमेंट एजेंसी (IREDA) ने 29 नवंबर को शानदार तरीके से शेयर बाजार में एंट्री की। स्टॉक एक्सचेंज में कंपनी का शेयर 50 रुपये पर लिस्ट हुआ, जो 22 रुपये के इश्यू प्राइस से 56 पर्सेंट प्रीमियम पर है। कुछ एनालिस्ट्स ने स्टॉक को मीडियम से लॉन्ग टर्म में होल्ड करने की सलाह दी है। कंपनी के मजबूत फंडामेंटल्स और बेहतर ग्रोथ की संभावना के चलते एक्सपर्ट्स ने इस तरह की सलाह जारी की है।

कंपनी के शेयरों की लिस्टिंग शेयर बाजार के अनुमानों से बेहतर है। मेहता इक्विटीज में सीनियर वाइस प्रेसिडेंट, रिसर्च प्रशांत तापसे ने बताया, ‘हमारा मानना है कि लिस्टिंग के बाद शेयरों की काफी मांग होगी, क्योंकि इसे सभी तरह के निवेशकों से बेहतर रेस्पॉन्स मिला है। IREDA देश के रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर में बेहतर भूमिका निभा सकती है।’

IREDA ने IPO के जरिये 2,150.21 करोड़ रुपये जुटाए हैं। स्वास्तिका इनवेस्टमार्ट (Swastika Investmart) की वेल्थ हेड शिवानी न्याति ने बताया कि कंपनी में लॉन्ग टर्म ग्रोथ की बेहतर संभावनाएं हैं, लिहाजा लॉन्ग टर्म नजरिये से निवेश करने वालों के लिए यह बेहतर विकल्प हो सकता है। उन्होंने कहा, ‘IREDA की मजबूत फाइनेंशियल परफॉर्मेंस और रिन्यूएबल एनर्जी सेक्टर पर फोकस की वजह से कंपनी निवेश का आकर्षक विकल्प है। यह सेक्टर आने वाले वर्षों में जबरदस्त ग्रोथ हासिल कर सकता है।’

इस ऑफर को 38.8 गुना सब्सक्रिप्शन मिला और निवेशकों ने 47.09 करोड़ के शेयरों वाले IPO में 1,827.25 करोड़ के शेयर खरीदे। क्वालिफाइड इंस्टीट्यूशनल बायर्स (QIB) ने अपने कोटे के शेयरों के मुकाबले 104.57 गुना सब्सक्राइब किया, जबकि रिटेल इनवेस्टर्स ने अपने आवंटित कोटे के मुकाबले 7.73 गुना बिड किया। जानकारों के मुताबिक, इस पावर फाइनेसिंग नॉन-बैंकिंग फाइनेंस कंपनी (NBFC) की ग्रोथ जारी रहेगी और बिजली की मांग बढ़ने के साथ ही इसमें और बढ़ोतरी होगी।

खरीदे, बेचें या होल्ड करें?

मेहता इक्विटीज (Mehta Equities): होल्ड करें

तापसे ने बताया कि IREDA में निवेशकों को शेयर होल्ड करने का लॉन्ग टर्म अवसर उपलब्ध है , लिहाजा सभी निवेशकों को यह शेयर लॉन्ग टर्म के लिए होल्ड करने की सलाह दी जाती है।

स्टॉक्सबॉक्स (StoxBox): होल्ड करें

स्टॉक्सबॉक्स के रिसर्च एनालिस्ट श्रेयांश शाह ने बताया, ‘हमारा मानना है कि कंपनी का शेयर आकर्षक वैल्यू पर उपलब्ध है। जिन निवेशकों को ये शेयर आवंटित किए गए हैं, उन्हें इन शेयरों को मीडियम से लॉन्ग टर्म में होल्ड करने की सलाह दी जाती है।’

[ad_2]

Source link

Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *