INDIA vs AUS मुकाबला : राहुल की बातों में छुपा दर्द

hindinewsviral.com
6 Min Read

INDIA vs AUS मुकाबला वर्ल्ड कप 2023 का फाइनल भारत के अहमदाबाद स्टेडियम में खेला जा रहा था, जहां ऑस्ट्रेलिया ने 6 विकेट से भारत को हराया। अहमदाबाद के नरेंद्र मोदी स्टेडियम में टीम इंडिया ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी की और 240 रन पर ऑल आउट हो गई।

ऑस्ट्रेलिया को मिली टारगेट को पूरा करते हुए उनकी बल्लेबाजी ने 43 ओवर में 4 विकेट खोकर जीत हासिल की। इंडिया में क्रिकेट नहीं, बल्कि इमोशन है, और इमोशन कई बार ऐसे उतार-चढ़ाव के साथ आती है कि इंसान जिंदगी से हाथ धो बैठता है। इंडिया ने 10 मैच जीते हैं, लेकिन 11 मैचों में हार हो गई है, और एक हार के बाद सब कुछ समाप्त हो जाता है।INDIA vs AUS मुकाबला इंडिया की हार को नहीं सह पाया बंगाल के राहुल….

राहुल ने टीम इंडिया हारने के बाद क्यों सुसाइड किया |

INDIA vs AUS मुकाबला पश्चिम बंगाल के बांकुड़ा की कहानी है, जहां एक लड़का ने स्पेशल ऑफ लिया था कि वह बैठकर मैच देखने के लिए, कपड़े की दुकान पर काम करता था। मालिका ने परमिशन दे दी थी।

लेकिन ऑस्ट्रेलिया जब इस मैच को जीत जाती है और इंडिया हार जाती है, उसने अपने इमोशंस पर काबू नहीं कर पाया और उसने सुसाइड कर लिया।

INDIA vs AUS मुकाबला:सुमन गिल ने ट्वीट करते हुए कहा |

“16 घंटे हो गए हैं, लगता है मान अभी की बात है, तुरंत की बात है। ऐसा लग रहा है कि कभी-कभी सब कुछ देना भी जिंदगी में पूरा नहीं होता, रोहित शर्मा और विराट कोहली की वह तस्वीर भी बेचैन कर रही है, उलझन दे रही है।”

INDIA vs AUS मुकाबला:फियर ऑफ फेलियर के तीन बड़े देश कौन-कौन से हैं।

भारत एकमात्र ऐसा देश नहीं है, दुनिया में बहुत सारे ऐसे देश हैं, जो फियर ऑफ फेलियर का संघर्ष कर रहे हैं, उनमें से एक देश है इंग्लैंड जो 1966 में सिर्फ 1 बार फुटबॉल का वर्ल्ड कप जीत पाया है, 1966 से 10 बार नॉकआउट स्टेज पर हार गई है।

इसका मतलब है कि यह सोच कि यह अटैंप मेरा क्वालीफाई कर देगा, वहां जाकर हार गए, केवल इंग्लैंड ही नहीं बल्कि इसमें ब्राज़ील भी शामिल है जो केवल 5 बार फीफा वर्ल्ड कप जीता है, लेकिन 2002 के बाद एक भी किताब नहीं जीता है।

ऐसे हिस्सा साउथ अफ्रीका की क्रिकेट टीम का है, जो सेमीफाइनल तक पहुंचने के बाद पहले ही बाहर हो जाता है, यानी कि इसके लिए एक पड़ाव है। उदाहरण के लिए, इसे ऐसे समझा जा सकता है।

आपने कभी वीडियो गेम खेला होगा, जिसमें स्टेज आता है, 1st स्टेज, 2nd स्टेज, 3rd स्टेज, 5th स्टेज और तैसे स्टेजों को पार करना पड़ता है। हमें उसमें इतना डर जाता है कि जो जानते हैं वह भी हार जाते हैं, वैसा ही हुआ इंडिया के साथ

भारत हारने के 4 कारण हैं:

  1. हारने का डर: आप जितना चाहते हैं लेकिन मन में डर है कि नहीं जीत सकते हैं।
  2. लोग क्या कहेंगे: अंदर बैठकर हारने पर लोग क्या कहेंगे, समाज देश इसे कैसे देखेगा।
  3. शर्मिंदा होने का डर: फेल होने पर दूसरों के सामने शर्मिंदा होने का खापा।
  4. उम्मीद पर खड़ा न उतरने का डर: आप अच्छा करते हैं लेकिन डर है कि लोग की उम्मीद पूरी नहीं कर पाएंगे।

Twitter में इतना ट्रेंड क्यू कर रहा है? पनौती शब्द

ट्विटर पर ‘पनौती’ शब्द का इतना ट्रेंड क्यों हो रहा है? यह शब्द वास्तव में अपशगुन है। इसके कारण, जब इंडिया टीम वर्ल्ड कप में हार गई, तो कुछ लोग इस शब्द का इस्तेमाल कर रहे हैं, जिन्हें मोदी जी से कोई फर्क नहीं पड़ता था।

अगर इंडिया वर्ल्ड कप जीत जाता है, तो पूरे मोदी की फुटेज को भी इसे ट्रेंडिंग में ला देगा, साथ ही सतगुरु जी को भी ‘पनौती’ कहा जाएगा, जिससे दो लोगों के नाम में जुड़ाव होगा।

एक था अक्षय कुमार और शाहरुख खान, जो वर्ल्ड कप के मैच देखने स्टेडियम गए थे, उन्हें दर्शकों ने लपेट लिया और ‘पनौती’ शब्द का उपयोग सभी पर किया, इसलिए ट्विटर पर यह शब्द ट्रेडिंग कर रहा है।

सारा खान के बारे में दर्शकों का कहना है कि, शाहरुख खान जितने भी मैच देखते हैं, सभी मैच टीम इंडिया हार जाती है, इसलिए वे इस ‘पनौती’ को देखने आए हैं।

इंडिया के दर्शकों ने रोहित शर्मा के बारे में कहा है कि, उन्होंने हमें लगभग डेढ़ महीने का आनंद दिया है, क्रिकेट के समय में वह हमारे लिए पर्याप्त है, जीत जाते तो और भी अच्छा होता, हर भी गए तो हमारा आपके प्रति रिस्पेक्ट कम नहीं हुआ है, वे बहुत अच्छा खेले हैं, उनकी नेतृत्व में टीम ने बहुत अच्छा प्रदर्शन किया है।

और इंडिया आगे भी ऐसे ही तरक्की करते रहें, हम आपसे यही अपेक्षा रखते हैं, आप इस प्रकार से निराश मत होइए, क्योंकि आपसे बहुत सारे लोग बहुत प्रकार की अपेक्षाएं अपनी जीवन में लेकर चलते हैं, आपको अपना हीरो मानते हैं, और आपके चेहरे पर निराशा के भाव नहीं जमता।

TAGGED:
Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *