Deepika Padukone Birthday Interesting Facts; Ranveer Singh Wife Controversy | सबसे कंट्रोवर्शियल और सबसे कामयाब- दीपिका पादुकोण: आमिर ने नजरअंदाज किया तो भूखी रहीं, फिल्मों में आने के बाद करना चाहती थीं आत्महत्या

hindinewsviral.com
24 Min Read

[ad_1]

7 घंटे पहलेलेखक: ईफत कुरैशी

  • कॉपी लिंक

बॉलीवुड की मौजूदा टॉप एक्ट्रेसेस में से एक दीपिका पादुकोण आज 38 साल की हो चुकी हैं। कभी बचपन में लिवाइस की एक जींस खरीदने का सपना देखने वालीं दीपिका आज उसी कंपनी की ब्रांड एम्बेसडर हैं।

16 साल के एक्टिंग करियर में 39 फिल्में कर 52 बड़े अवॉर्ड अपने नाम करने वालीं दीपिका हर नई फिल्म के साथ एक कंट्रोवर्सी में फंस जाती हैं। चाहे वो गोलियों की रासलीलाः राम-लीला की टाइटल कंट्रोवर्सी हो, पद्मावत को लेकर नाक काटने पर इनाम रखने की कंट्रोवर्सी हो या फिर पठान से जुड़ी भगवा बिकिनी।

बड़े विवादों के बावजूद दीपिका की ये तीनों ही फिल्में ब्लॉकबस्टर साबित हुईं। हालांकि साल 2019 में दीपिका के जेएनयू विजिट का सीधा असर उनकी फिल्म छपाक पर पड़ा और फिल्म बॉक्स ऑफिस पर औंधे मुंह गिर गई।

कई उतार-चढ़ाव के साथ दीपिका ने इंडस्ट्री में 16 कामयाब साल पूरे कर 39 फिल्में दीं और 52 अवॉर्ड अपने नाम किए। साल 2023 में दीपिका दो ब्लॉकबस्टर फिल्मों जवान और पठान से करीब 2200 करोड़ का बॉक्स ऑफिस कलेक्शन करने वाली इकलौती एक्ट्रेस रहीं।

वहीं 2023 में सबसे ज्यादा कंट्रोवर्सी में रहने वाली एक्ट्रेस भी दीपिका ही हैं। भगवा बिकिनी हो, तलाक की अफवाह हो या कॉफी विद करण में दिया गया उनका स्टेटमेंट। इन तमाम विवादों के बावजूद दीपिका पिछले 10 साल से टॉप एक्ट्रेसेस में शुमार हैं।

आज दीपिका के जन्मदिन के खास मौके पर जानिए बचपन में बात करने में झिझक महसूस करने वाली शर्मीली लड़की की टॉप एक्ट्रेस बनने की कहानी और उनके करियर की 5 सबसे बड़ी कंट्रोवर्सी-

शाहरुख ने 3 साल बाद दिलाई हिट फिल्म

साल 2023 दीपिका के लिए बेहद खास रहा है। 2023 में उनकी दो फिल्में जवान और पठान रिलीज हुईं और दोनों ही फिल्मों ने रिकॉर्ड ब्रेकिंग कमाई कर कई बड़े रिकॉर्ड बनाए। खास बात ये रही कि दीपिका पादुकोण की इससे पहले रिलीज हुईं 3 फिल्में छपाक, 83 और गहराइयां कोई खास कमाल नहीं दिखा सकीं।

शाहरुख को दीपिका का लकी चार्म कहना गलत नहीं होगा, क्योंकि दीपिका ने शाहरुख के साथ साल 2007 की फिल्म ओम शांति ओम से डेब्यू किया और बॉलीवुड में कदम रखा। दोनों अब तक 5 फिल्मों में नजर आए हैं और ये पांचों फिल्में सुपरहिट रहीं।

शाहरुख ने धोखे में रखकर साइन करवाई थी फिल्म जवान

साल 2023 की ब्लॉकबस्टर फिल्म जवान में दीपिका ने शाहरुख की मां का रोल प्ले किया था। शाहरुख को लगता था कि दीपिका कभी भी इस रोल के लिए राजी नहीं होंगी, ऐसे में उन्होंने दीपिका को राजी करने के लिए उनसे झूठ कहा था।

दरअसल, दीपिका फिल्म पठान के गाने बेशरम रंग की शूटिंग कर रही थीं, तब शाहरुख ने एटली को सेट पर बुलाया था। पठान के सेट पर एटली ने दीपिका को जवान की स्क्रिप्ट सुनाई और उन्हें एहसास दिलाया कि उनका रोल फिल्म में कितना अहम है।

शाहरुख ने दीपिका से कहा कि उन्हें फिल्म में कैमियो रोल करना है, लेकिन ये झूठ बोलकर उन्होंने पूरी फिल्म में लंबा स्क्रीन टाइम दे दिया। ये किस्सा खुद शाहरुख ने जवान के सक्सेस इवेंट में सुनाया था।

2023 में इन कंट्रोवर्सी से चर्चा में रहीं दीपिका पादुकोण

भगवा बिकिनी विवाद- साल की शुरुआत दीपिका पादुकोण ने फिल्म पठान से की। 25 जनवरी 2023 को रिलीज हुई इस फिल्म का गाना बेशरम रंग विवादों में था। गाने में दीपिका ने भगवा रंग की बिकिनी पहनी थी, जिसमें बोल थे ‘बेशरम रंग’। फिल्म को लेकर बायकॉट ट्रेंड चलाया गया। देवी-देवताओं द्वारा पहने गए भगवा रंग को बेशरम कहे जाने पर लोगों ने मेकर्स पर धार्मिक भावनाओं को आहत करने का आरोप लगाया।

मध्य प्रदेश के शहर इंदौर में इतना बवाल हुआ कि पहला शो रद्द करना पड़ा था। UP और बिहार में भी कई जगहों पर फिल्म के पोस्टर फाड़े और जलाए गए। आलम यह था कि कई जगह पर सिनेमाघरों के बाहर पुलिस बल तैनात करना पड़ा। बजरंग दल और विश्व हिंदू परिषद के कार्यकर्ताओं ने कहा कि अगर फिल्म रिलीज हुई तो थिएटर्स फूंक देंगे। सिर्फ उत्तर भारत में नहीं, साउथ के राज्यों में भी फिल्म को लेकर काफी विरोध हुआ था।

कॉफी विद करण का विवादित बयान- कॉफी विद करण के 8वें सीजन में दीपिका पादुकोण पति रणवीर सिंह के साथ पहुंची थीं। शो में उन्होंने बताया था कि वो रणवीर के साथ-साथ कई और लोगों को भी डेट कर रही थीं, लेकिन वो मेंटली रणवीर से कमिटेड थीं। बयान सामने आते ही लोगों ने दीपिका के चरित्र पर सवाल उठाने शुरू कर दिए और देखते-ही-देखते वो मीम मटेरियल बन गईं।

एक नजर दीपिका के फिल्मों में आने के सफर पर-

भारत नहीं, डेनमार्क में हुआ दीपिका का जन्म

5 जनवरी 1986 को दीपिका पादुकोण का जन्म कोपेनहेगन, डेनमार्क में हुआ था। उनके पिता प्रकाश पादुकोण भारत के मशहूर बैडमिंटन प्लेयर हैं, जबकि उनकी मां उज्जवला एक ट्रैवल एजेंट हैं। दीपिका की एक छोटी बहन अनीशा भी है। दीपिका महज 1 साल की थीं, जब उनका परिवार डेनमार्क से भारत आकर बस गया।

पिता प्रकाश और मां उज्जवला के साथ नन्ही दीपिका।

पिता प्रकाश और मां उज्जवला के साथ नन्ही दीपिका।

झिझक के चलते बचपन में नहीं बन पाए दोस्त

बेंगलुरु के सोफिया हाई स्कूल में पढ़ाई करते हुए दीपिका बेहद शर्मीली हुआ करती थीं। सांवली रंगत और नाजुक शरीर वाली दीपिका में कॉन्फिडेंस की इस कदर कमी थी कि वो लोगों से बात करने में भी झिझकती थीं। यही कारण रहा कि उन्होंने बचपन में कभी दोस्त नहीं बनाए।

लियोनार्डो की तस्वीर चूम कर ही सोती थीं दीपिका

बचपन से ही दीपिका पादुकोण हॉलीवुड एक्टर लियोनार्डो डिकैप्रियो की बड़ी फैन थीं। उनके कमरे में लियोनार्डो की तस्वीरें भी होती थीं, जिन्हें वो रोज सोने से पहले चूमती थीं। किसे पता था कि दीपिका खुद एक इंटरनेशनल स्टार बन जाएंगी।

दीपिका पादुकोण के पिता प्रकाश पादुकोण फेमस टेनिस प्लेयर थे, जिनका उठना-बैठना कई सेलिब्रिटीज के साथ होता था। एक बार आमिर खान ने प्रकाश पादुकोण को सह परिवार अपने घर बुलाया था। दीपिका अपने पिता, मां और बहन के साथ आमिर के घर पहुंचीं। उस वक्त आमिर खाना खा रहे थे, या दीपिका के शब्दों में कहें तो दही चावल खा रहे थे।

13 साल की दीपिका उनके सामने ही बैठी थीं, लेकिन खाने में व्यस्त आमिर ने उनसे एक बार भी नहीं पूछा कि क्या उन्हें भूख लगी है। दीपिका को जोरों की भूख थी, लेकिन वो खामोशी से बैठी रहीं। ये किस्सा खुश दीपिका पादुकोण ने सोशल मीडिया पर शेयर किया था।

बचपन में जीती हुई ट्रॉफी और सर्टिफिकेट्स के साथ पोज करती हुईं दीपिका।

बचपन में जीती हुई ट्रॉफी और सर्टिफिकेट्स के साथ पोज करती हुईं दीपिका।

पिता के दबाव में सुबह 5 बजे उठकर करती थीं प्रैक्टिस

दीपिका पादुकोण के पिता प्रकाश पादुकोण इंटरनेशनल बैडमिंटन प्लेयर थे, जबकि उनके दादाजी रमेश पादुकोण, मैसूर बैडमिंटन एसोसिएशन के सेक्रेटरी थे। प्रकाश हमेशा से चाहते थे कि उनकी बड़ी बेटी दीपिका भी उन्हीं की राह पर चलकर बैडमिंटन में अपना करियर बनाए।

हमेशा अकेले और खामोश रहने वालीं दीपिका को बैडमिंटन में कोई दिलचस्पी नहीं थी, लेकिन जब पिता ने दबाव बनाया तो उन्हें मजबूरन बैडमिंटन की प्रैक्टिस शुरू करनी पड़ी। वो रोज सुबह 5 बजे उठकर पिता के साथ प्रैक्टिस किया करती थीं।

10वीं में बैडमिंटन छोड़कर शुरू की थी मॉडलिंग

बिना मन से शुरू की गई बैडमिंटन प्रैक्टिस रंग लाई और दीपिका कई नेशनल चैंपियनशिप का हिस्सा रहीं। कुछ समय बाद उन्होंने बेसबॉल में भी हाथ आजमाया। इस दौरान दीपिका के पास किसी और काम के लिए बिल्कुल समय नहीं होता था।

सुबह 5 बजे प्रैक्टिस, फिर स्कूल और फिर घर लौटकर दोबारा प्रैक्टिस। मन मारकर सिर्फ पिता के कहने पर बैडमिंटन खेलते हुए दीपिका थक चुकी थीं। एक दिन दीपिका ने हिम्मत कर पिता को मन की बात बता दी। खुशकिस्मती से वो मान गए और 10वीं में दीपिका ने बैडमिंटन छोड़ दिया।

2004 में मॉडलिंग करियर की शुरुआत हुई, किस्मत से फिल्मों में आईं

पिता को राजी कर दीपिका ने 10वीं के बाद ही मॉडलिंग की दुनिया में कदम रखा। वो कोरियोग्राफर और फैशन स्टाइलिस्ट प्रसाद बिदापा के लिए मॉडलिंग करती थीं। स्कूलिंग पूरी होते ही दीपिका ने इंदिरा गांधी नेशनल यूनिवर्सिटी में सोशियोलॉजी की डिग्री लेने के लिए दाखिला ले लिया।

मॉडलिंग करियर के लिए छोड़ी थी पढ़ाई

सब कुछ ठीक चल रहा था, लेकिन फिर दीपिका को कई मॉडलिंग प्रोजेक्ट मिलने लगे, जिससे उनका पढ़ाई और मॉडलिंग के बीच तालमेल बैठाना मुश्किल होने लगा। ऐसे में उन्होंने पढ़ाई अधूरी छोड़ दी और मॉडलिंग पर फोकस किया।

16वें बर्थडे पर पिता ने डिमांड पर दिलाई थी लिवाइस जींस, आज उसकी ब्रांड एम्बेसडर हैं

दीपिका पादुकोण ने एक इंटरव्यू में बताया था कि वो 16वें बर्थडे पर पहली लिवाइस जींस खरीदकर बेहद खुश हुई थीं। उनके पिता ने उन्हें स्कूल से पिक किया और सीधे बेंगलुरु की ब्रिगेड रोड के एक स्टोर ले गए। दीपिका ने ये किस्सा लिवाइस की ब्रांड एम्बेसडर बनने पर सुनाया था। बताते चलें कि दीपिका पहली इंडियन सेलिब्रिटी हैं, जो लिवाइस की ग्लोबल ब्रांड एम्बेसडर हैं।

साल 2004 में दीपिका लिरिल साबुन के ऐड में नजर आई थीं। इस ऐड से 18 साल की दीपिका को पहचान मिल गई और उन्हें लगातार कई ब्रांड्स के ऐड में काम मिलने लगा।

19 साल में जीता मॉडल ऑफ द ईयर का अवॉर्ड

मॉडलिंग करियर को उड़ान तब मिली, जब दीपिका ने 2005 में लैक्मे फैशन वीक से रनवे डेब्यू किया। डिजाइनर सुनीत वर्मा के लिए उनके किए रनवे वॉक को काफी सराहना मिली। इसके बाद किंगफिशर मॉडल अवॉर्ड में उन्हें मॉडल ऑफ द ईयर का अवॉर्ड मिला।

डिजाइनर वेंडेल रॉडरिक ने की थी ऐश्वर्या से तुलना

दीपिका कुछ समय के लिए ज्वेलरी डिजाइनिंग सीख रही थीं, जहां उन्हें फैशन डिजाइनर वेंडेल रॉडरिक ट्रेनिंग देते थे। एक दिन वेंडल ने दीपिका से मैट्रिक्स टैलेंट एजेंसी जॉइन करने को कहा। वेंडल ने दीपिका को देखकर कहा था, मैंने ऐश्वर्या के बाद पहली बार कोई इतनी खूबसूरत और फ्रेश चेहरे वाली लड़की देखी है। वेंडल ही दीपिका के मॉडलिंग मेंटॉर थे।

मॉडलिंग करियर के लिए 21 साल की उम्र में पहुंचीं मुंबई

मैट्रिक्स टैलेंट एजेंसी से जुड़ने के लिए 21 साल की उम्र में दीपिका बेंगलुरु से मुंबई शिफ्ट हो गईं। वो अपनी आंटी के साथ रहा करती थीं। एजेंसी के जरिए ही दीपिका को साल 2006 में हिमेश रेशमिया का गाना नाम है तेरा मिला था। ये गाना चार्टबस्टर रहा और दीपिका को इंडस्ट्री में पहचान मिल गई।

इत्तफाक से दीपिका को मिली थी ओम शांति ओम, मलाइका अरोड़ा की है अहम भूमिका

साल 2006 में फराह खान अपनी डायरेक्टोरियल फिल्म हैप्पी न्यू ईयर के लिए एक फ्रेश चेहरे की तलाश में थीं। उन्होंने मलाइका अरोड़ा से मदद मांगी। कुछ समय बाद मलाइका ने अपने दोस्त और मॉडलिंग मेंटॉर रॉडरिक को ये बात बताई जो उस समय दीपिका के भी मेंटॉर थे। रॉडरिक ने मलाइका को दीपिका का नाम सुझाया और उन्हें गाना नाम है तेरा देखने को कहा।

ओम शांति ओम नहीं, हैप्पी न्यू ईयर में हुई थी दीपिका की कास्टिंग

मलाइका ने यही बात फराह को कही। फराह ने गाना देखकर दीपिका से मुलाकात की और एक ऑडिशन के बाद उन्हें फिल्म हैप्पी न्यू ईयर में साइन कर लिया।

हेमा मालिनी और हेलन की फिल्में देखकर सीखी एक्टिंग

फराह खान फिल्म हैप्पी न्यूर ईयर की शूटिंग शुरू करने वाली थीं, लेकिन फिर उन्होंने ओम शांति ओम पर काम शुरू कर दिया। उन्होंने दीपिका को ही इस फिल्म में शाहरुख खान के साथ काम दिया। साल 2007 में रिलीज हुई फिल्म ओम शांति ओम में शांतिप्रिया का रोल निभाने के लिए दीपिका ने हेलन और हेमा मालिनी की फिल्मों को देखकर रोल की तैयारी की थी।

रणबीर और दीपिका की डेब्यू फिल्में एक ही तारीख पर एक साथ रिलीज हुईं

2007 की फिल्म ब्लॉकबस्टर साबित हुई, जिसका बॉक्स ऑफिस क्लैश रणबीर कपूर और सोनम कपूर की डेब्यू फिल्म सांवरिया से हुआ था। दोनों ही फिल्में 9 नवंबर 2007 को रिलीज हुईं और दोनों ही हिट रहीं। इत्तफाक से दोनों को अगली फिल्म बचना ऐ हसीनों में साथ काम मिला। 2008 की फिल्म की शूटिंग करते हुए दोनों एक दूसरे को पसंद करने लगे और रिलेशनशिप में आ गए।

चंद महीनों में ही दीपिका ने खुलकर अपनी मोहब्बत का ऐलान कर दिया और अपनी गर्दन पर RK (रणबीर कपूर) का परमानेंट टैटू बनवा लिया। टैटू की खूब चर्चा हुई, लेकिन उससे ज्यादा चर्चा हुई रणबीर और कटरीना के लिंक-अप की। दीपिका ने रणबीर पर चीटिंग के आरोप लगाए। रणबीर से ब्रेकअप के बाद दीपिका डिप्रेशन में थीं।

कई बार बनाया था आत्महत्या करने का प्लान

करियर के पीक पर होने के बावजूद दीपिका पादुकोण डीप डिप्रेशन में थीं। उन्होंने लोगों से मिलना और घर से निकलना भी कम कर दिया था। उन्हें सिर्फ सोते रहना अच्छा लगता था, क्योंकि उनका मानना था कि ये उनके बचने का एक तरीका था। अकेले रहते हुए कई बार वो मरने का प्लान भी करती थीं।

जब भी दीपिका के पेरेंट्स उनके पास आते थे, वो ऐसा बिहेव करती थीं, जैसे सब ठीक हो। एक इवेंट में दीपिका ने डिप्रेशन के बारे में खुलकर बात करते हुए बताया था, एक बार मेरे पेरेंट्स बेंगलुरु से मुंबई आए थे। मैं उनके साथ रही, लेकिन जिस दिन वो जाने लगे मैं उस दिन फूट-फूटकर रोने लगी।

ये देखकर मेरी मां ने मुझसे पूछा कि क्या बॉयफ्रेंड की वजह से कुछ हुआ। क्या किसी ने कुछ कहा है। इंडस्ट्री में कुछ हुआ है? जाहिर है दीपिका के पास इन सवालों का जवाब नहीं था, क्योंकि वो खुद वजह नहीं जानती थीं।

दीपिका की मां भांप गईं कि उन्हें डॉक्टर की जरूरत है। मां की मदद से दीपिका ने डटकर डिप्रेशन का सामना किया और धमाकेदार कमबैक किया। दीपिका ने खुद ना सिर्फ वापसी की बल्कि आज वो एंटी डिप्रेशन ऑर्गेनाइजेशन लिव लव लाफ चलाती हैं, जिससे वो डिप्रेस लोगों की मदद करती हैं। मेंटल हेल्थ अवेयरनेस फैलाने के लिए दीपिका को साल 2020 में वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की तरफ से क्रिस्टल अवॉर्ड मिल चुका है।

एक गाने से पहली बार विवादों में आईं

डिप्रेशन से लड़ते हुए दीपिका की फिल्में कार्तिक कॉलिंग कार्तिक, चांदनी चौक टू चाइना, ब्रेक के बाद, खेले हम जी जान से फ्लॉप रहीं। इसके बाद दीपिका ने किसी फिल्म नहीं बल्कि गाने से खुद को चर्चा में पाया। वो गाना था 2011 की फिल्म दम मारो दम का टाइटल सॉन्ग।

गाने की एक लाइन विवाद और विरोध का कारण बनी। दीपिका का सिजलिंग अवतार और गाने की लिरिक्स देखकर कहा गया कि ये हिंदी सिनेमा के इतिहास का सबसे वाइल्ड गाना है। गाने के चलते दीपिका के खिलाफ कोर्ट केस तक हुआ था। इसी साल उनकी दो और फिल्में आरक्षण और देसी बॉयज फ्लॉप हो गईं।

2012 में कॉकटेल से शुरू हुई करियर की दूसरी पारी

साल 2012 में आई फिल्म कॉकटेल से दीपिका पादुकोण ने जबरदस्त वापसी की। उन्हें वेरोनिका और मीरा दोनों किरदार में से किसी एक को चुनना था, लेकिन उन्होंने वेरोनिका का बोल्ड और चैलेंजिंग रोल निभाया। आगे उन्होंने रेस 2, चेन्नई एक्सप्रेस और ये जवानी है दीवानी जैसी हिट फिल्में दीं।

2013 में संजय लीला भंसाली ने दिया मौका

ऐश्वर्या, करीना द्वारा फिल्म रिजेक्ट किए जाने के बाद संजय लीला भंसाली ने फिल्म गोलियों की रासलीलाःरामलीला में प्रियंका को लीला का रोल दिया था। हालांकि वो इससे संतुष्ट नहीं थे। एक दिन वो स्क्रिप्ट लेकर दीपिका पादुकोण के घर पहुंचे।

दीपिका उस वक्त बीमार थीं और संजय के आने से पहले तैयार नहीं हो सकी थीं। संजय को बीमार दीपिका का लुक इस कदर पसंद आया कि उन्होंने तुरंत फिल्म ऑफर कर दी। वहीं दूसरी तरफ पाकिस्तानी एक्टर इमरान खान और सुशांत के बाद ये फिल्म रणवीर सिंह को मिली।

सेट पर बढ़ी नजदीकियां, एक किसिंग सीन से करीब आए

फिल्म में दीपिका ने 30 किलो के वजन वाला लहंगा पहना था। सेट पर साथ समय बिताते हुए दीपिका और रणवीर की पहले दोस्ती हुई और फिर एक किसिंग सीन से दोनों करीब आ गए।

जब संजय लीला भंसाली ने फिल्म का टाइटल रामलीला रखा, तो अनाउंसमेंट के बाद ही विवाद शुरू हो गया। रामलीला टाइटल के साथ बोल्ड लव स्टोरी दिखाए जाने पर हिंदू संगठनों ने इसका खूब विरोध किया।

सड़कों पर रैलियां निकाली गईं और फिल्म बैन करने की मांग हुई। विवाद के बीच दीपिका पादुकोण, डायरेक्टर संजय लीला भंसाली और रणवीर सिंह के खिलाफ जालंधर में शिकायत तक दर्ज हो गई। विवादों से बचने के लिए मेकर्स ने टाइटल रामलीला से बदलकर गोलियों की रासलीलाः राम-लीला कर दिया।

रानी पद्मावती बनने पर मिली थीं नाक काटने और जान से मारने की धमकियां

2018 की फिल्म पद्मावत में दीपिका ने रानी पद्मावती का किरदार निभाया था। जोधपुर में शूटिंग के दौरान धार्मिक संगठनों ने सेट पर तोड़फोड़ की और शूटिंग करने वालों को जान से मारने की धमकी दी।

इस दौरान डायरेक्टर संजय लीला भंसाली का चेहरा काला कर उनके साथ मारपीट की गई। कारण था फिल्म का टाइटल पद्मावती होना। मेकर्स को विवादों से बचने के लिए टाइटल पद्मावती से बदलकर पद्मावत करना पड़ा। जैसे ही फिल्म का गाना घूमर रिलीज हुआ तो विवाद और बढ़ गए।

गाने में रानी पद्मावती बनीं दीपिका का आदमियों के सामने डांस करना और कमर दिखाना लोगों से बर्दाश्त नहीं हुआ। लोगों की भीड़ ने सड़कों पर खूब प्रदर्शन किए और एक्ट्रेस को जान से मारने तक की धमकी मिली।

करणी सेना के लोगों ने दीपिका की नाक काटने की भी धमकी दी थी। वहीं ये खबर भी फैलाई गई कि दीपिका की नाक काटने वाले को इनाम मिलेगा। ऐसे में दीपिका को सिक्योरिटी दी गई थी। आखिरकार सेंसर बोर्ड के निर्देश पर एडिटिंग से दीपिका का पेट छिपाया गया और टाइटल बदला गया।

JNU प्रोटेस्ट में पहुंचीं तो फ्लॉप हुई फिल्म छपाक

2020 में छपाक की रिलीज से ठीक पहले दीपिका जेएनयू प्रोटेस्ट का हिस्सा बनी थीं। दीपिका को लेफ्टिस्ट कहते हुए उन पर कई आरोप लगाए गए। नतीजा ये हुआ कि विवादों के बीच दीपिका के KA प्रोडक्शन में बनी पहली फिल्म छपाक बुरी तरह से फ्लॉप हो गई।

2018 में हुई शादी, 2024 में करेंगी फैमिली प्लानिंग

साल 2015 में ही रणवीर ने दीपिका को शादी के लिए प्रपोज कर उनसे सीक्रेट सगाई कर ली। दोनों ने 2018 में शादी की और अब हाल ही में दीपिका ने बताया है कि वो फैमिली प्लानिंग कर रही हैं।

बिजनेसवुमन हैं दीपिका पादुकोण

  • 2013 में दीपिका ने वैन हुसेन के साथ कोलैबोरेट कर क्लोदिंग कलेक्शन लॉन्च किया था।
  • 2015 में दीपिका ने मिंत्रा के साथ ऑल अबाउट यू क्लोदिंग ब्रांड लॉन्च किया।
  • दीपिका KA एंटरप्राइजेज के जरिए इंटरटेनशल फूड सप्लाई में जगह बनाई है। ये योगर्ट और फ्रोजन फूड बिजनेस है जिसका नाम एपिगेमिया है। इसके अलावा दीपिका इलेक्ट्रिक टैक्सी, ब्लू स्मार्ट से भी कमाती हैं।
  • 2022 में दीपिका ने स्किनकेयर प्रोडक्ट को ब्रांड नेम 82 डिग्री ईस्ट से शुरू किया है।

कई प्रॉपर्टी की मालकिन हैं दीपिका

2021 में दीपिका ने अलीबाग में 22 करोड़ का हॉलिडे होम खरीदा था। यहां दो बंगलों के अलावा कपल के पास नारियल और सुपारी के बगीचे भी हैं। 2021 अगस्त में दीपिका ने अपने होमटाउन बेंगलुरु में एक सर्विस अपार्टमेंट खरीदा। 2010 में दीपिका ने मुंबई के प्रभादेवी इलाके में 4BHK फ्लैट खरीदा था, जिसकी कीमत 20 करोड़ रुपए है। दीपिका ने शाहरुख खान के घर मन्नत के पास नया घर भी खरीदा है।

[ad_2]

Source link

Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *