Amitabh Bachchan does Anand Pandit’s films for free, both have Raj Bhavan in their real estate; 160 celebrities were in America on their birthday | आनंद पंडित की फिल्में फ्री में करते हैं अमिताभ बच्चन: दोनों की रियल एस्टेट में पार्टनरशिप है; जन्मदिन पर 150 से ज्यादा सेलिब्रिटीज पहुंचे थे

hindinewsviral.com
12 Min Read

[ad_1]

  • Hindi News
  • Entertainment
  • Bollywood
  • Amitabh Bachchan Does Anand Pandit’s Films For Free, Both Have Raj Bhavan In Their Real Estate; 160 Celebrities Were In America On Their Birthday

11 मिनट पहलेलेखक: उमेश कुमार उपाध्याय

  • कॉपी लिंक

पिछले दिनों निर्माता आनंद पंडित ने अपना बर्थडे इतने भव्य पैमाने पर सेलिब्रेट किया। इस समारोह में शामिल हुए दो हजार लोगों में अमिताभ बच्चन, शाहरुख खान, सलमान खान, रितिक रोशन, टाइगर श्रॉफ, कार्तिक आर्यन, अभिषेक बच्चन, काजोल, सुभाष घई, सोनू निगम, विशाल शेखर सहित 150 से अधिक बॉलीवुड की ए-लिस्टर सेलिब्रिटी बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया।

अमिताभ बच्चन ने आनंद पंडित को रीढ़ की हड्‌डी बताया तो शाहरुख खान ने भी उनकी भूरि-भूरि प्रशंसा की। जन्मदिन के अलावा आनंद पंडित अपनी फिल्म ‘सरकार-4’ से भी खबरों में बने हैं। भव्य पैमाने पर बनने वाली इस फिल्म के बारे में सूत्र बताते हैं कि इसका बजट 80 से 90 करोड़ होगा। ‌

दैनिक भास्कर से खास बातचीत करते हुए आनंद पंडित ने अपने बर्थडे सहित अपकमिंग फिल्म ‘सरकार-4’ के बारे में खास जानकारी दी-

अमिताभ बच्चन ने आपको रीढ़ की हड्‌डी बताया। आप दोनों एक दूसरे से इतने प्रभावित कैसे हुए?
जवाब- अमिताभ बच्चन की फिल्म ‘त्रिशूल’ से प्रभावित होकर मैं रियल एस्टेट क्षेत्र में आया। इस फिल्म में बच्चन साहब ने विजय का किरदार निभाया था। इसमें वे शांति कंस्ट्रक्शन कंपनी में रियल एस्टेटडेवलपर बनते हैं। मैंने इस फिल्म को 60 से 70 दफा देखी होगी। उनसे इसी पिक्चर से इंस्पायर हुआ था, तब सोचा कि मुंबई जाकर अपनी कंस्ट्रक्शन कंपनी खोलूंगा।

एक स्ट्रगलर के रूप में 11 हजार रुपए लेकर साल 1999 में अहमदाबाद से मुंबई आया। यहां से मेरी जर्नी शुरू होती है। मुझे कोई जानता नहीं था कि यह कौन है। लेकिन मेरे दिमाग में धुनकी थी कि विजय यानी ‘त्रिशूल’ का अमिताभ बच्चन बनना है।

सोचता था कि एक दफा बच्चन साहब को देख सकूं तो बहुत बड़ी कामयाबी होगी। आज कुदरत ऐसी जगह पर लेकर आई है कि बच्चन साहब बोलते हैं कि आनंद भाई मेरी फैमिली जैसे हैं। आज हम साथ में एक फिल्म पर काम करते हैं। वे मेरे लिए आराध्य हैं। वे जो भी बोलते हैं, मैं उसे तुरंत युद्ध स्तर पर करता हूं।

अमिताभ बच्चन से आपकी पहली मुलाकात कब हुई थी? आपने उन्हें अपना बंगला बेचा था।
जवाब-
बच्चन साहब से पहली मुलाकात करीब 15 साल पहले हुई थी। हमारे एक दोस्त ने उनसे मिलवाया था। उस समय बच्चन साहब जानते नहीं थे कि मैं कौन हूं और क्या करता हूं। उनसे धीरे-धीरे निकटता बढ़ी।

बच्चन साहब के बंगले जलसा के कॉमन कंपाउंड से जुड़ा मेरा बंगला था। यह जलसा के पीछे गार्डन यानी जलसा और जनक के बीच में था। एक दिन बच्चन साहब ने उस बंगले को लेने की इच्छा जताई, तब उनके हाथ में मैंने चाभी थमा दी। इस बंगले का नाम मनसा है। बच्चन साहब के बंगले से सटा बंगला कोई क्यों बेचेगा! लेकिन सदी के महानायक ने मुझसे कुछ मांगा, तब वह मेरे लिए बड़े गर्व की बात थी।

अमिताभ बच्चन आपकी फिल्मों में काम करते हैं, तब कोई चार्ज नहीं करते। बंगला बेचते के बाद आपने उनसे कितना चार्ज किया था?
जवाब- यह तो 12-15 साल पहले की बात है। हमने बच्चन साहब को बोला था कि आपको जो ठीक लगे, वह भेजना। वह तो डील हो गया था। लेकिन आज जुहू में बंगला दे देना बड़ी बात है, क्योंकि कोई देता नहीं है।

मुंबई में भूखंड बहुत इंपोर्टेंट चीज है। यह मेरे नसीब की बात थी कि अपने आराध्य से लगकर मुझे बंगला मिल गया था। उनसे साथ हमारी जर्नी यहां से शुरू हुई। हम साथ में रियल एस्टेट का काम भी करते हैं।

हमारा साथ में अंधेरी में काम चल रहा है। हम दोनों ऑफिशियल पार्टनर हैं। आप सोचिए कि एक लड़का स्कूल-कॉलेज में यह सोचता था कि बच्चन साहब की फिल्में देखकर रियल एस्टेट में काम करे, वही मुंबई आकर बच्चन साहब के साथ पार्टनर हो जाता है, यह बड़ी बात हो जाती है।

बिग बी आपके साथ रियल एस्टेट में जुड़ने के लिए कैसे तैयार हुए?
जवाब-
मैंने बच्चन साहब को बोला कि फिल्मों में आपके साथ कुछ करता हूं, यह मेरे सौभाग्य की बात है। क्योंकि बच्चन साहब के साथ फिल्म करना बहुत बड़ी बात है। प्रोड्यूसर, डायरेक्टर और एक्टर सभी बच्चन साहब के साथ काम करना चाहते हैं।

मेरे लिए सौभाग्य की बात है कि उनके साथ कई फिल्में की। उनका इतना प्यार है कि आग्रह करने पर भी उन्होंने कभी मुझसे पैसा नहीं लिया। बच्चन साहब मेरे प्रोजेक्ट हमेशा इनवेस्ट करते हैं, अच्छा रिटर्न मिलता है।

मैंने ही उनको बोला कि कभी एकाध प्रोजेक्ट में साथ जुड़कर देखिए कि आपको क्या लगता है। उन्होंने एग्री किया। वहां से हमारी पार्टनरशिप शुरू हुई। यह करीब तीन साल पहले की बात है।

सेलिब्रिटी में और कौन हैं, जो आपकी कंपनी में इन्वेस्ट करते हैं?
जवाब-
काफी लोग हैं। अजय देवगन, रितिक रोशन, संजय लीला भंसाली, राकेश रोशन, जितेंद्र, साजिद नाडियाडवाला, जान्हवी कपूर, बोनी कपूर, ए.आर. रहमान, शाहरुख खान हैं। आप जो नाम बोलिए वे लगभग मेरे साथ में हैं।

ऐसा समझिए कि इंडस्ट्री के 70 टक्का लोग मेरे पास पास हैं, जो इन्वेस्ट करते हैं या एक्चुअल यूजर हैं। एक्चुअल यूजर का मतलब खुद यूज करने के लिए लेते हैं। समझिए कि ए.आर. रहमान साहब ने मेरे ऑफिस में स्टूडियो बनाया है।

आपके बर्थडे सेलिब्रेशन के अवसर पर आपको शो मैन घोषित किया गया। क्या कहेंगे?
जवाब-
देखिए, यह शो मैन होना बहुत बड़ी बात है। शो मैन हमेशा राज कपूर साहब रहे या तो सुभाष घई साहब हैं। मैं तो बहुत छोटा आदमी हूं। यह तो लोगों का प्यार है कि इतनी बड़ी संख्या में सब लोग हाजिर रहे। करीब 160 सेलिब्रिटी ब्लेसिंग देने के लिए आए।

इससे बड़ी बात और कोई नहीं हो सकती है। मैं जो भी करता हूं, थोड़ा टेस्टफुली करता हूं। अच्छा खाना-पीना, अच्छा म्यूजिक, अच्छी सजावट। लोगों को लगा कि यह तो अवॉर्ड फंक्शन से भी बड़ा फंक्शन हो गया है।

इतनी तादाद में लोगों का आना मेरे लिए इज्जत की बात रही। जनरली ऐसी पार्टी में लोग 11 बजे के बाद आते हैं, लेकिन सबको पता था कि बच्चन साहब 9 बजे आने वाले हैं, इसलिए 9 से 9.30 बजे के बीच सब लोग आ गए थे। मजे बात है कि किसी ने एक रुपए चार्ज नहीं किया।

फिल्म ‘सरकार-4’ को लेकर क्या अपडेट है?
जवाब-
यह फिल्म अभी भी लिखी जा रही है। इसे बहुत दमदार स्क्रिप्ट बनानी है। दो डिफरेंट स्क्रिप्ट बन रही है। इसमें से बच्चन साहब जिसको ‘हां’ बोलेंगे, उस पर काम शुरू करेंगे। पहली बार ऐसा हो रहा है कि दो अलग राइटर को लिखने के लिए बोला गया है।

कंप्लीटली डिफरेंट माइंड ब्लॉग से दोनों राइटर लिख रहे हैं। यह दोनों गुजरात के नए राइटर हैं। यह स्टोरी ऑलमोस्ट फिनिश होने को आई है। अभी स्क्रीन प्ले और डायलॉग लिखने का काम शुरू हो जाएगा। मेरे ख्याल से दो महीने में पूरी तरह से कंप्लीट हो जाएगी।

इस बार कहानी में क्या खास होगा? क्या बच्चन साहब ने भी कोई सुझाव दिया है?
जवाब- अभी पॉलिटिक्स का जो करंट सिनेरियो है, उसे भी इसके अंदर रखा गया है। जिससे लोग नेशनली इसे कनेक्ट कर सकें। इतने सालों से फिल्मी लाइन में काम कर रहे बच्चन साहब बहुत अनुभवी हैं। उन्होंने एक सुझाव दिया है, उस सुझाव को ध्यान में रखते हुए स्टोरी लिखी जा रही है।

उनका सुझाव यही रहा कि ऐसी स्टोरी हो, जो आज के यूथ से कनेक्ट करे। अभी पॉलिटिक्स को लेकर यूथ सोशल मीडिया पर काफी एक्टिव हुआ है। उसे ध्यान में रखते हुए इसे लिखा जाना चाहिए। यह फिल्म सिर्फ पॉलिटिक्स पर ही नहीं है। पॉलिटिक्स को घर तक पहुंचाए, उस टाइप का एंगल इसमें डाला जाना चाहिए। जिससे यंगस्टर इसे कनेक्ट कर सके।

इसे कितने भव्य पैमाने पर बनाएंगे और रिलीज करेंगे?
जवाब-
इसको बहुत भव्य पैमान पर रिलीज करेंगे। मुझे लगता है कि इसे ढाई से तीन हजार स्क्रीन्स में लाएंगे। ऑल इंडिया के अलावा इसे बाहर भी रिलीज करने का प्लान है। अभी हमारी थिंकिंग चल रही है कि साउथ के किसी स्टार को लेकर वहां का तड़का भी मारें, जिससे दूसरी लैंग्वेज में डब करके साउथ में भी रिलीज करवाएं।

इसे ट्राई करेंगे। इसे हिंदी, तमिल, तेलुगू, मलयालम और कन्नड़ सहित कुल पांच लैंग्वेज में लाने की प्लानिंग चल रही है। अब चूंकि स्टोरी ऐसी होनी चाहिए, जिससे हर जगह के लोग उससे कनेक्ट कर सकें तभी पांच भाषाओं में लाने का मतलब होगा।

क्या इसे इंडिया से बाहर भी शूट करने का प्लान है?
जवाब-
इसमें लोकल फ्लेवर ज्यादा है, क्योंकि पॉलिटिक्स है। घर और पॉलिटिक्स की बात है, इसलिए विदेश में शूट करने का सवाल नहीं है। इसका ज्यादातर भाग मुंबई में शूट होगा। ऑल मोस्ट, 80 पर्सेंट मुंबई में शूट होगा। दिल्ली में 5 से 10 टक्का इसका आउट शॉर्ट लेने की जो जरूरत होगी, वही उतना वहां पर शूट होगी।

इस टाइम गोवा में नहीं, पूना में ज्यादा शूट होगा। क्योंकि महाराष्ट्र का बैकग्राउंड दिखाने के लिए पूना या उसके आसपास कहीं शूट कर लेंगे। इसे 60 से 70 दिन में शूट करने का प्लान है। इसे साल 2024 के आखिर या अगले साल की शुरुआत में लाने का विचार है।

इसमें थोड़ा एक्शन भी होगा, इसलिए बजट तो बड़ा ही होगा। लेकिन एक बार स्टोरी कंप्लीट हो जाए, तब उसके बाद में ही पता चलेगा कि बजट क्या होगा। इसमें पॉलिटिक्स, एक्श और फैमिली ड्रामा का मिश्रण होगा।

[ad_2]

Source link

Leave a review

Leave a review

Your email address will not be published. Required fields are marked *